सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

हरक की घर वापसी, बहू अनुकृति ने भी थामा कांग्रेस का हाथ

देहरादून: पांच दिनों तक मचे सियासी घमासान के बाद आखिरकार पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और उनकी बहू अनुकृति गुसाईं ने आज दिल्‍ली में कांग्रेस का दामन थाम लिया।  इस दौरान पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत समेत कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे। इस दौरान हरक सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश का विकास मेरा लक्ष्‍य है। उन्होंने कहा कि मैं बिना शर्त कांग्रेस परिवार में शामिल हुआ हूं।हरक ने कहा मैंने 20 साल तक कांग्रेस के लिए काम किया है। मैं सोनिया गांधी का एहसान किसी भी कीमत पर नहीं भूलूंगा । वहीं देर आयद दुरूस्त आये की कहावत चरितार्थ करते हुये कांग्रेस में पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत की वापसी पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत की आपत्ति के बाद पेच फंसा हुआ था । हालांकि सरकार तोडने में हरक की भूमिका जिसमे उन्होंने वर्ष 2016 में बगावत कर उनकी सरकार गिराई भी हरीश रावत बहुत नाराज थे जिसको लेकर हरीश रावत के तीखे तेवरों में अभी कमी नहीं आई है। वह हरक सिंह रावत को लोकतंत्र का गुनहगार बताते हुए पहले माफी मांगने पर जोर देते रहे। लेकिन हरीश रावत कह चुके थे कि हरक की

स्वास्थ विभाग के अजब गजब कारनामे: बिहार में मृत महिला को स्वास्थ्य विभाग ने लगाई कोरोना वैक्सीन की सेकेंड डोज, सर्टिफिकेट भी हुआ जारी

 


 बिहार के स्वास्थ्य विभाग के अजब-गजब कारनामे हैं। विभाग कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर कितना गंभीर है कि आप इस बात से ही अंदाजा लगा सकते हैं कि स्वर्ग सिधारी एक महिला को न सिर्फ सेकंड डोज लगायी गयी बल्कि सर्टिफिकेट भी जारी कर दिया गया। छपरा जिले के सलेमपुर हरिमोहन गली मोहल्ले के रहने वाले पत्रकार डीएस तोमर की मां कौशल्या देवी के मामले में विभाग का यह सच सामने आया है। उनकी मौत हो चुकी है पर स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को सेकंड डोज वैक्सीन लगाने का सक्सेसफुल मैसेज भेज दिया और दोनों डोज पूरा होने की जानकारी भी उपलब्ध करा दी।मालूम हो कि 26 अप्रैल को सदर अस्पताल में उन्हें पहली डोज दी गयी थी। सेकंड डोज का समय आने से कुछ समय पहले उनकी मौत बीमारी से हो गई। सदर अस्पताल के आईसीयू में भी उनका इलाज हुआ था लेकिन 9 दिसंबर को करीब 10:50 के आसपास उनके रजिस्टर्ड मोबाइल पर जो मैसेज आया उसे देखकर परिवार के लोग हतप्रभ रह गए।जिले में 80 प्रतिशत लोगों ने ली सेकंड डोज  

जिले में बनाये गये थे 430 वैक्सीनेशन केंद्र
अब तक 32 लाख 74 हजार लोगों को पड़ा टीका
कोरोना के नये वेरिएंट को लेकर सतर्क रहने की जरूरत

टिप्पणियाँ

Popular Post