सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

इंटरनेट मीडिया से हो रहे चुनाव प्रचार में ग्रामीण भारत का एक बड़ा वर्ग अछूता

जैसा कि आपको मालूम है कि कोविड-19 की गाइडलाईन को ध्यान में रखकर चुनाव आयोग ने वर्चुअल रैली और प्रचार प्रसार के निर्देश जारी किये थे। जैसा की आपको मालूम है कि इस वक्त देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैंऔर कोरोना की वजह से न तो रैलियां हो रही हैं और न ही रोड शो के जरिये राजनीतिक दल जनता के बीच अपना शक्ति प्रदर्शन ही कर पा रहे हैं।  लिहाजा सारा चुनाव प्रचार डिजिटल प्रारूप में ही सिमट कर रह गया है। गौरतलब है कि चुनाव आयोग की पाबंदी के कारण राजनीतिक दल और नेता इंटरनेट मीडिया के विभिन्न मंचों के जरिये जनता के बीच अपनी पैठ बनाने में लगे हैं। इन्हीं मंचों पर अपनी प्रचार सामग्री को परोसकर पार्टियां चुनाव में अपनी स्थिति को मजबूत करने में जुटी हैं। मतदाताओं को लुभाने के लिए इस बार राजनीतिक पार्टियां लोकगीतों के रूप में अपने अपने प्रचार गीत बनवाकर  इंटरनेट मीडिया के मंचों पर उन्हें साझा करके जनता के दिलोदिमाग पर छा जाने को बेताब हैं। इस संग्राम में आगे निकल जाने की स्पर्धा लगभग सभी दलों में दिखाई दे रही है। ऐसे में यहां यह सवाल तैर रहा है कि लोकतंत्र के इस चुनावी त्योहार में क्या यह

बदायूं : गल्ला व्यापारी से दिन दहाड़े दो लाख रुपये की लूट

 


  बदायूं  /  जनपद में दिनदहाड़े गल्ला व्यापारी से दो लाख रुपये की लूट हो गई। गल्ला व्यापारी शुक्रवार की सुबह साप्ताहिक बाजार में गल्ले का सामान खरीदने के लिए गए थे। वहीं पर बाइक सवार तीन बदमाश आए और व्यापारी से रुपये का बैग लेकर रफूचक्कर हो गए। बैग में दो लाख रुपये थे। व्यापारी ने शोर मचाते हुए बदमाशों का काफी दूर तक पीछा किया लेकिन पकड़ नहीं पाए। घटना की जानकारी होने पर पुलिस मौके पर पहुंची और बदमाशों की तलाश शुरू की। शहर के सभी थानों काे अलर्ट कर दिया गया है।बदायूं जनपद के वजीरगंज के गल्ला व्यापारी राजेंद्र गुप्ता शुक्रवार को सुबह करीब पौने 11 बजे गल्ला की खरीदारी करने दिसौलीगंज साप्ताहिक बाजार पहुंचे थे। उन्होंने दो लाख रुपये अपने बैग में रखे थे। तीन बाइक सवार बदमाश उनका रुपये वाला बैग लेकर भाग निकले। उन्हाेंने शोर मचाया तो व्यापारियों ने उनका काफी दूर तक पीछा भी किया, लेकिन पकड़ नहीं पाए। दिनदहाड़े हुई लूट की वारदात से व्यापारियों में आक्रोश बना हुआ है। मामला संज्ञान में आने पर बिसौली कोतवाली पुलिस ने बदमाशों की खोजबीन शुरू कर दी है, लेकिन अभी तक उनका सुराग नहीं लग सका है। आसपास के थानों को भी अलर्ट कर दिया गया है।

टिप्पणियाँ

Popular Post