सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

चार दिनों में 2500 अंक से ज्यादा गिरा सेंसेक्स, इनवेस्टर्स के डूबे 8 लाख करोड़

  शेयर बाजार में लगातार गिरावट जारी है और हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिनों में भी ये गिरावट देखने को मिल रही है। जिसकी वजह से इक्विटी निवेशकों की संपदा में 8 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा की कमी दर्ज की गई है। शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में बीएसई सेंसेक्स करीब 700 अंक टूटा। पहले मिनट में निवेशकों के करीबन 2.5 लाख करोड़ रुपए डूब गए। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 194.10 अंक या 1.09 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,562.90 पर कारोबार कर रहा था। दूसरी तरफ पॉवरग्रिड और एचयूएल के शेयर लाभ में रहे। पिछले सत्र में तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 634.20 अंक यानी 1.06 प्रतिशत लुढ़ककर 59,464.62 पर बंद हुआ। ऐसे आपको इस गिरावट के प्रमुख कारणों से अवगत कराते हैं।  वैश्विक बाजारों में नकारात्मक रूख और विदेशी पूंजी की निरंतर निकासी के कारण से दुनिया भर के बाजार गिरावट में हैं। अमेरिका की फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में बढोतरी की उम्मीद में ग्लोबल बॉन्ड यील्ड में उछाल की वजह से निवेशक जोखिम लेने से बच रहे हैं और जिसकी वजह से अपने पोर्टफोलियो में कम रिस्की असेट्स शामिल कर रहे हैं।  न केवल अमेरिका में

देश की जनता ने ‘मोदी हटाओ-महंगाई घटाओ’ का मन बना लिया है: डोटासरा

 


 जयपुर /  कांग्रेस की राजस्थान इकाईके अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने सोमवार को कहा कि देश की जनता ने ‘मोदी हटाओ-महंगाई घटाओ’ के लिए मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि जयपुर में रविवार को महंगाई हटाओ रैली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा दिये गये संदेश को जिस प्रकार जन-समर्थन प्राप्त हुआ है, उसके बाद 2024 में मोदी सरकार की वापसी असंभव है। डोटासरा कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा देश में मंहगाई कम करने के लिए कोई काम नहीं किया जा रहा है और ना ही केन्द्र सरकार राज्यों को कोई वित्तीय सहायता उपलब्ध करवा रही है।उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की नीतियों के कारण जनता परेशान है तथा 2024 में होने वाले देश के आम चुनावों के लिये मोदी हटाओ अभियान का बिगुल बज चुका है। साथ ही कहा कि जयपुर में आयोजित मंहगाई हटाओ रैली से मोदी सरकार का पतन सुनिश्चित हो गया है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि मंहगाई हटाओ रैली, केन्द्र से मोदी सरकार को हटाने के अभियान का शंखनाद है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपने सिद्धांतों की राजनीति करते हैं तथा विचारधारा की बात करते हैं। रैली में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गंधी का भाग लेना कांग्रेस के सभी लोगों के लिये प्रेरणा है। उन्होंने कहा कि रैली में उमड़े जन सैलाब से स्पष्ट हो गया है कि 2023 में राजस्थान में फिरसे कांग्रेस की सरकार बनेगी और 2024 में कांग्रेस केन्द्र में सत्ता में लौटेगी।

टिप्पणियाँ

Popular Post