सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

इंटरनेट मीडिया से हो रहे चुनाव प्रचार में ग्रामीण भारत का एक बड़ा वर्ग अछूता

जैसा कि आपको मालूम है कि कोविड-19 की गाइडलाईन को ध्यान में रखकर चुनाव आयोग ने वर्चुअल रैली और प्रचार प्रसार के निर्देश जारी किये थे। जैसा की आपको मालूम है कि इस वक्त देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैंऔर कोरोना की वजह से न तो रैलियां हो रही हैं और न ही रोड शो के जरिये राजनीतिक दल जनता के बीच अपना शक्ति प्रदर्शन ही कर पा रहे हैं।  लिहाजा सारा चुनाव प्रचार डिजिटल प्रारूप में ही सिमट कर रह गया है। गौरतलब है कि चुनाव आयोग की पाबंदी के कारण राजनीतिक दल और नेता इंटरनेट मीडिया के विभिन्न मंचों के जरिये जनता के बीच अपनी पैठ बनाने में लगे हैं। इन्हीं मंचों पर अपनी प्रचार सामग्री को परोसकर पार्टियां चुनाव में अपनी स्थिति को मजबूत करने में जुटी हैं। मतदाताओं को लुभाने के लिए इस बार राजनीतिक पार्टियां लोकगीतों के रूप में अपने अपने प्रचार गीत बनवाकर  इंटरनेट मीडिया के मंचों पर उन्हें साझा करके जनता के दिलोदिमाग पर छा जाने को बेताब हैं। इस संग्राम में आगे निकल जाने की स्पर्धा लगभग सभी दलों में दिखाई दे रही है। ऐसे में यहां यह सवाल तैर रहा है कि लोकतंत्र के इस चुनावी त्योहार में क्या यह

कांग्रेस की मैराथन में भगदड़ से लड़कियां हुईं चोटिल



बरेली : बरेली में  कांग्रेस पार्टी की तरफ से शहर में महिला मैराथन का आयोजन किया गया था। जिसमें महिलाओं के साथ हजारों छात्राओं ने हिस्सा लिया था । आपको बता दें कि भीड़ अधिक होने की वजह से कई लड़कियां धक्का.लगने के कारण गिर गईं जिनको चोटें भी लगीं। हालांकि कोई भी गंभीर रूप से घायल नहीं है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश  प्रभारी प्रियंका गांधी की ओर से दिए गए नारे ‘मैं लड़की हूं,लड़ सकती हूं’ के अंतर्गत इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। वहीं भगदड़ को लेकर पूर्व मेयर सुप्रिया एरन ने अपना बेतुका बयान दिया है। उन्होंने कहा कि, जब वैष्णो देवी में भगदड़ मच सकती है तो यहां क्यों नहीं। इसके साथ ही उन्होंने इस भगदड़ के पीछे किसी की साजिश होने की भी बात कही। गौरतलब है कि जिस तरह से प्रदेश में हमारी पार्टी का जनाधार बढ़ रहा है उसको देखते हुए इस कार्यक्रम को असफल बनाने के लिए साजिश भी की जा सकती है। वहीं इस घटना पर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और राहुल गांधी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मैराथन में भगदड़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। कई लड़कियां गिर गईं और घायल हो गईं।उन्होंने  कहा कि शुक्र है कि किसी की जान नहीं गई।लेकिन कोविड प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाई गईं हैं।

टिप्पणियाँ

Popular Post