सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

एम्स के 50 डॉक्टरआइसोलेशन में,बाकी डॉक्टर्स की छुट्टियां रद्द



 एक बार फिर कोरोना संक्रमण का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की चपेट में आम लोगों के साथ डॉक्टर भी आने लगे हैं। आपको बता दें कि  बीते दिन एम्स में भी 6 डॉक्टर कोरोना संक्रमित होने की खबर आई थी।  इसके बाद अब आज मंगलवार को लगभग 50 डॉक्टर को आईशोलेशन में रखा गया है। गौरतलब है कि  कोरोना प्रोटोकॉल के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है।  वहीं कोरोना संक्रमित मरीजों की तादाद बढ़ने पर अब दिल्ली एम्स ने छुट्टी पर गए डॉक्टर्स को फौरन ड्यूटी ज्वॉइन करने को कहा है। अभी सुबह बताया गया कि, एम्स ने 5 जनवरी से 10 जनवरी तक शीतकालीन अवकाश का शेष भाग रद्द कर दिया है और फैकल्टी सदस्यों को तत्काल प्रभाव से काम पर लौटने के आदेश दिए हैं। ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के पेशेनज़र ये फैसला लिया गया है, इसके अलावा एम्स और सफदरजंग में डॉक्टर्स और अन्य हेल्थ कर्मी भी कोरोना की चपेट में हैं ऐसे में अस्पताल फुल स्ट्रेंथ में काम करना चाहता है।

टिप्पणियाँ

Popular Post