सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

हरक की घर वापसी, बहू अनुकृति ने भी थामा कांग्रेस का हाथ

देहरादून: पांच दिनों तक मचे सियासी घमासान के बाद आखिरकार पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और उनकी बहू अनुकृति गुसाईं ने आज दिल्‍ली में कांग्रेस का दामन थाम लिया।  इस दौरान पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत समेत कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे। इस दौरान हरक सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश का विकास मेरा लक्ष्‍य है। उन्होंने कहा कि मैं बिना शर्त कांग्रेस परिवार में शामिल हुआ हूं।हरक ने कहा मैंने 20 साल तक कांग्रेस के लिए काम किया है। मैं सोनिया गांधी का एहसान किसी भी कीमत पर नहीं भूलूंगा । वहीं देर आयद दुरूस्त आये की कहावत चरितार्थ करते हुये कांग्रेस में पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत की वापसी पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत की आपत्ति के बाद पेच फंसा हुआ था । हालांकि सरकार तोडने में हरक की भूमिका जिसमे उन्होंने वर्ष 2016 में बगावत कर उनकी सरकार गिराई भी हरीश रावत बहुत नाराज थे जिसको लेकर हरीश रावत के तीखे तेवरों में अभी कमी नहीं आई है। वह हरक सिंह रावत को लोकतंत्र का गुनहगार बताते हुए पहले माफी मांगने पर जोर देते रहे। लेकिन हरीश रावत कह चुके थे कि हरक की

उत्तराखण्ड: कट सकता है सीटिंग भाजपा विधायकों का टिकट

 


 राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि किसी भी चुनाव में जीत दर्ज करने के लिए बूथ को जीतना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बूथों को जीतने के लिए सभी को एकजुट होकर काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बूथ मैनेजमेंट के जरिए पार्टी राज्य में पहले भी बेहतर प्रदर्शन कर चुकी है। ऐसे में इस बार भी बूथों का प्रबंधन सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि अगले 15 दिनों में बूथ इकाई से लेकर पन्ना प्रमुख तक जन संपर्क और लोगों के साथ समन्वय बनाने का काम करेंगे।भारतीय जनता पार्टी ने 2022 के विधानसभा चुनावों से पहले बूथ प्रबंधन पर पूरी ताकत झोंकने का निर्णय लिया है। इसके तहत अगले 15 दिनों के भीतर बूथ प्रबंधन का काम पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में आयोजित हुई जिला प्रभारियों, विधानसभा प्रभारियों, विस्तारकों, जिला प्रवासी और सहायक प्रवासियों की बैठक में अगले 15 दिनों में बूथों का मैनेजमेंट का लक्ष्य दिया गया है।राष्ट्रीय अध्यक्ष ने निर्देश दिए कि प्रत्येक बूथ पर बूथ कमेटियों का गठन किया जाएगा जिसमें सभी धर्म, जाति और समुदायों के लोगों को शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा के लिए हर वर्ग का मतदाता महत्वपूर्ण है और चुनाव से पहले सभी मतदाताओं से संपर्क कर उनसे बातचीत की जाएगी। उन्होंने कहा कि विरोधियों से भी पार्टी के पक्ष में मतदान की अपील की जाए, और उन्हें पार्टी के सिद्धांतों और कार्यों के बारे में जानकारी दी जाए। सूत्रों ने बताया कि बैठक में निर्देश दिए गए कि चुनाव से पहले कई बार हर मतदाताओं से संपर्क कर उनसे पार्टी के पक्ष में मतदान की अपील की जाएगीविदित है कि 2017 के विधानसभा चुनावों में भाजपा बड़ी संख्या में सीटें जीतने में कामयाब रही थी। सूत्रों के अनुसार हाल में पार्टी की ओर से कराए गए सर्वे में पार्टी के कई मौजूदा विधायकों की स्थिति को कमजोर बताया गया है। ऐसे में अब 2022 के चुनावों में पार्टी कई सीटिंग विधायकों का टिकट काट सकती है।पार्टी बूथ स्तर पर नाराज वोटरों की सूची भी बनाएगी। इसमें ऐसे लोगों की पहचान की जाएगी जो पहले पार्टी से जुड़े रहे हैं लेकिन अब किसी वजह से नाराज चल रहे हैं। उन्हें मनाने के लिए अलग से अभियान चलाया जाएगा। पार्टी के सूत्रों ने बताया कि पांच साल सरकार में रहने की वजह से कई बार वोटरों में सरकार के खिलाफ नाराजगी देखी जाती है। ऐसे में ऐसे नाराज लोगों से संपर्क कर दोबारा उन्हें पार्टी से जोड़ने की कोशिश की जाएगी।नड्डा ने टिहरी, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, पौड़ी, देहरादून जिलों पदाधिकारियों की बैठक में बूथ जीता चुनाव जीता का नारा दिया। पार्टी हर बूथ पर प्रभावशाली वोटरों (की-वोटर्स ) की सूची तैयार करेगी। एक बूथ पर 15 से 20 प्रभावशाली लोग होंगे जो अन्य लोगों को पार्टी के पक्ष में जोड़ने का काम करेंगे। गढ़वाल मंडल की 41 विधानसभा क्षेत्रों के विधानसभा प्रभारी व अन्य पदाधिकारियों की बैठक के दौरान इसके निर्देश दिए गए हैं। सभी को जल्द से जल्द इनकी सूची तैयार करने के निर्देश दिए गए। साथ ही बूथ स्तर पर केंद्र व राज्य सरकार की ओर से चलाई जा रही योजनाओं के लाभार्थियों की सूची बनाई जाएगी। ऐसे लोगों को अन्य मतदाताओं को रिझाने के काम में लगाने को कहा गया है।भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक ने डा. हरक सिंह की नाराजगी को लेकर पत्रकारों के सवाल पर कहा कि उनकी पार्टी से कोई नाराजगी नहीं है। न कोई सेटलमेंट हुआ है। हरक सिंह अपने क्षेत्र के विकास कार्य को लेकर नाराज हुए और नाराजगी दूर हो गई है।भाजपा महानगर महिला मोर्चा अध्यक्ष कमली भट्ट के नेतृत्व में महानगर और मंडल की महिलाओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का स्वागत किया। पारंपरिक परिधान पहनकर आई महिलाओं ने मांगल गीत गाया। वाद्य यंत्रों की धुन पर स्वागत हुआ। मौके पर पूनम ममगाईं, सर्वेश्वरी थपलियाल थे।यमुनोत्री से आए कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को ज्ञापन देकर उनकी विस से पार्टी काडर के किसी कार्यकर्ता को टिकट देने की मांग की। इसे लेकर मदन कौशिक ने कहा कि पार्टी अपने मजबूत कार्यकर्ताओं को ही टिकट देती है। उन्होंने कहा कि केदारसिंह रावत पिछले पांच सालों से भाजपा के विधायक हैं। इसलिए उन्हें पार्टी कॉडर से न समझा जाना गलत है। उन्होंने कहा कि पार्टी में टिकट वितरण का कार्य केंद्रीय पार्लियामेंट्री बोर्ड करता है।

टिप्पणियाँ

Popular Post