सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

राज्‍यसभा 12 बजे तक स्‍थगित,लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष का हंगामा शुरू

 


 नई दिल्ली  /  संसद के शीतकालीन सत्र में बुधवार को भी हंगामे के आसार दिखाई दे रहे हैं। विपक्ष लगातार अपने 12 सांसदों के निलंबन पर सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है। मंगलवार को विपक्ष ने इस मुद्दे पर मार्च भी किया। इस दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि सरकार उनके उठाए मुद्दों पर ध्‍यान नहीं देना चाहती है। उन्‍होंने ये भी कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी सदन में आते नहीं है। इस तरह से लोकतंत्र को नहीं चलाया जा सकता है। इस बीच मंगलवार संसद में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के निदेशकों के कार्यकाल की वर्तमान सीमा दो साल से बढ़ा कर पांच साल तक करने के प्रावधान वाले विधेयकों मंजूरी मिल गई। विपक्ष की अनुपस्थिति में राज्‍यसभा में ये विधेयक पास कर दिया गया। इसके अलावा मंगलवार को 'दिल्ली विशेष पुलिस स्थापन (संशोधन) विधेयक 2021' और 'केंद्रीय सतर्कता आयोग (संशोधन) विधेयक 2021' को भी पास कर दिया गया है। ये दोनों विधेयक नौ दिसंबर को पारित हो चुके हैं।संसद में आज देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट के मामलों पर भी चर्चा होने की उम्‍मीद है। इसके अलावा आज विपक्ष सदन में अपनी रणनीति को लेकर बैठक भी कर रहा है। इसमें सरकार पर दबाव बनाने की रणनीति पर विचार किया जाएगा। बता दें कि सांसदों के निलंबन पर सरकार और विपक्ष लगातार एक दूसरे पर आरोप लगा रहा है। टीएमसी सांसद ने लखीमपुर खीरी मामले में चर्चा की मांग की है। संसद में आज देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट के मामलों पर भी चर्चा होने की उम्‍मीद है। इसके अलावा आज विपक्ष सदन में अपनी रणनीति को लेकर बैठक भी कर रहा है। इसमें सरकार पर दबाव बनाने की रणनीति पर विचार किया जाएगा। बता दें कि सांसदों के निलंबन पर सरकार और विपक्ष लगातार एक दूसरे पर आरोप लगा रहा है। टीएमसी सांसद ने लखीमपुर खीरी मामले में चर्चा की मांग की है। 

टिप्पणियाँ

Popular Post