सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

नए वेरिएंट फैलने की आशंका : आश्रमों और गेस्ट हाउस में भी देना होगा अब कोरोना जांच का प्रमाणपत्र

  मथुरा / उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में वृन्दावन शहर में दस विदेशी एवं एक देशी नागरिक के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने सभी गेस्ट हाउसों एवं आश्रमों को कहा है कि वे अपने आने वाले हर देशी-विदेशी मेहमान का पूरा ब्योरा रखें और उनके पास कोरोना जांच का नेगेटिव प्रमाण पत्र होने के बाद ही उन्हें अपने यहां ठहराएं। गौरतलब है कि लंबे समय तक कोरोना वायरस का मामला नहीं आने के बाद बरती गई लापरवाही के बाद अब फिर से कोरोना संक्रमितों के मिलने का सिलसिला चल पड़ा है। वृन्दावन में पिछले सप्ताह से अब तक दस विदेशी एवं एक उड़ीसा की भारतीय नागरिक संक्रमित पाई जा चुकी है। तीन विदेशी जिला स्तर पर कोई सूचना दिए बिना यहां से लौट भी चुके हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रचना गुप्ता ने कहा है कि गेस्ट हाउस एवं आश्रम बाहर से आने वाले व्यक्तियों के रुकने से पूर्व उनके कोविड वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र एवं कोविड-19 जांच रिपोर्ट प्राप्त कर ही उन्हें ठहराएं तथा ऐसा नहीं होने पर वे तत्काल स्वास्थ्य विभाग के नियंत्रण कक्ष को रिपोर्ट करें। उनके अनुसार नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। न

मेरठ में बवाल : मंडप में दूल्‍हे की भांजी से गैंगरेप फिर हत्‍या

 


मेरठ के भावनपुर के एक विवाह मंडप में सोमवार देर रात शादी समारोह के दौरान दूल्हे की भांजी की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई। तलाश करने पर युवती का शव विवाह मंडप के एक कमरे के बाथरूम में अस्त व्यस्त हालत में मिला। इसी कमरे में एक सिपाही नशे की हालत में मिला तो गुस्साए परिजनों ने उसे पीटकर पुलिस के हवाले कर दिया। सुबह परिजनों ने गढ़ रोड पर मेडिकल मोर्चरी के सामने सड़क पर जाम लगा दिया। पांच घंटे तक यहां बवाल चलता रहा। पुलिस ने हत्या में मुकदमा दर्ज कर मंडप को सील कर दिया। इसके बाद ही जाम खोला गया। सिपाही समेत तीन लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।जागृति विहार क्षेत्र निवासी परिवार सोमवार रात भावनपुर के दतावली में रेड कारपेट मंडप में शादी समारोह में आया था। शादी समारोह से युवती लापता हो गई।

खोजबीन की तो युवती मंडप में बने कमरा नंबर-2 के बाथरूम में मृत अवस्था में मिली। इसी कमरे में मेरठ पुलिस लाइन में तैनात सिपाही रवि बालियान नशे की हालत में बेड पर पड़ा था। लोगों ने सिपाही को जमकर पीटा और बीच बचाव में आए मंडप के मैनेजर विकास गुप्ता व अंशुल गुप्ता से भी हाथापाई कर दी। परिजनों ने तीनों को पुलिस के हवाले कर दिया।

मंडप में युवती से रेप और हत्या के विरोध में लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। लोगों ने मोर्चरी के सामने गढ़ रोड पर सुबह से पांच घंटे तक जाम लगाए रखा। इसके चलते पूरे शहर की यातायात व्यवस्था चौपट हो गई। पुलिस ने समय पर रूट डायवर्जन नहीं कराया, जिसके चलते काली नदी तक जाम लग गया और सैकड़ों लोग फंसे रहे। करीब 12 बजे पुलिस को रूट डायवर्जन के लिए लगाया गया। इसके बावजूद पांच घंटे तक लोगों को जाम से जूझना पड़ा।

गढ़ रोड पर लगाए जाम का असर पूरे शहर में दिखा। गढ़ रोड और इसके आसपास के तमाम संपर्क मार्ग कुछ ही मिनटों में जाम की चपेट में आ गए। काली नदी पुल से लेकर मेडिकल कॉलेज तक वाहन सड़क पर फंसे रहे। मेडिकल कॉलेज गेट नंबर-2 से लेकर तेजगढ़ी तक भीषण जाम रहा। लोगों के साथ जाम लगाने वालों ने अभद्रता भी की। हंगामा हुआ और पुलिस के साथ भी झड़प हुई। पुलिस की लाख मशक्कत के बावजूद जाम नहीं खुल सका। इसे बाद रूट डायवर्जन व्यवस्था शुरू की गई।

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव