सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

नए वेरिएंट फैलने की आशंका : आश्रमों और गेस्ट हाउस में भी देना होगा अब कोरोना जांच का प्रमाणपत्र

  मथुरा / उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में वृन्दावन शहर में दस विदेशी एवं एक देशी नागरिक के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने सभी गेस्ट हाउसों एवं आश्रमों को कहा है कि वे अपने आने वाले हर देशी-विदेशी मेहमान का पूरा ब्योरा रखें और उनके पास कोरोना जांच का नेगेटिव प्रमाण पत्र होने के बाद ही उन्हें अपने यहां ठहराएं। गौरतलब है कि लंबे समय तक कोरोना वायरस का मामला नहीं आने के बाद बरती गई लापरवाही के बाद अब फिर से कोरोना संक्रमितों के मिलने का सिलसिला चल पड़ा है। वृन्दावन में पिछले सप्ताह से अब तक दस विदेशी एवं एक उड़ीसा की भारतीय नागरिक संक्रमित पाई जा चुकी है। तीन विदेशी जिला स्तर पर कोई सूचना दिए बिना यहां से लौट भी चुके हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रचना गुप्ता ने कहा है कि गेस्ट हाउस एवं आश्रम बाहर से आने वाले व्यक्तियों के रुकने से पूर्व उनके कोविड वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र एवं कोविड-19 जांच रिपोर्ट प्राप्त कर ही उन्हें ठहराएं तथा ऐसा नहीं होने पर वे तत्काल स्वास्थ्य विभाग के नियंत्रण कक्ष को रिपोर्ट करें। उनके अनुसार नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। न

संजय सिंह के आवास पर हमला, राम जन्म भूमि चन्दे में घपले की उठाई थी आवाज़,बोले. मेरी हत्या क्यों न हो जाए मैं चंदा चोरी नहीं होने दूंगा

 


 नयी दिल्ली /  आम आदमी पार्टी नेता संजय सिंह ने दावा किया है कि श्री राम जन्मभूमि जमीन खरीद सौदे से जुड़े घोटाले को उजागर करने की वजह से उनके आवास पर हमला हुआ है। आप नेता संजय सिंह ने कहा कि नार्थ एवेन्यू में मेरा घर है। यहां मेरा घर महामहिम राष्ट्रपति के घर से 100 मीटर की दूरी है। मेरे घर पर कई लोगों ने हमला हुआ क्योंकि मैंने चंदा चोरी का मुद्दा उठाया है। उन्होंने कहा कि मैं प्रभु श्रीराम के मंदिर से चंदा चोरी नहीं होने देना चाहता हूं। इस दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार और उनसे जुड़े हुए गुंडे सुन लें कि मेरी हत्या चाहे हो जाए लेकिन मैं चंदा चोरी होने नहीं दूंगा। उन्होंने बताया कि घर पर हमला करने वालों को पुलिस पकड़ कर ले गई है। बता दें कि संजय सिह के आवास के बाहर कालिख पोती गई है। 

गौरतलब है कि आप नेता संजय सिंह ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने संस्था के सदस्य अनिल मिश्रा की मदद से दो करोड़ रुपये की जमीन 18 करोड़ रुपए में खरीदी जो सीधे सीधे धनशोधन का मामला है और सरकार इसकी सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय से जांच कराए।


टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव