सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

अखिलेश यादव-राजभर की जोड़ी का ऐलान,बंगाल में खेला होबे के बाद अब यूपी में खदेड़ा होबे

      सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने अपनी पार्टी के 19वें स्थापना दिवस के अवसर पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को अपने मंच पर बुलाकर आगामी विधानसभा चुनाव में छोटे बड़े दलों के गठबंधन को मंच मुहैया कराने की कोशिश की है। ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि वह भावी सीएम को आपने सामने लेकर आए हैं।  उन्होंने कहा कि वह समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। अखिलेश यादव के साथ रैली में ओपी राजभर ने कहा कि बंगाल में 'खेला होबे' हुआ था तो यूपी में 'खदेड़ा होबे'। राजभर ने कहा कि 2022 में अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे। सरकार बनी तो घरेलू बिजली का बिल 5 साल तक माफ किया जाएगा। अखिलेश यादव ने कहा कि सपना दिखाया की चप्पल पहनने वाला हवाई जहाज में चलेगा, आज महंगाई के कारण चप्पल पहनने वाले व्यक्ति की मोटरसाइकिल भी चल नहीं पा रही है।  आज पेट्रोल की कीमत क्या है? क्या हालत कर दी जनता की। अखिलेश यादव जी ने कहा जब कोरोना जैसी महामारी आई तब सरकार ने बेसहारा छोड़ दिया सरकार ने मदद नहीं की। इससे पहले ओपी राजभर ने कहा कि यूपी के लोग बीजेपी क

मंगलौर पहुंचे हजारों किसान, किसान महापंचायत को नरेश टिकैत करेंगे संबोधित

कृषि कानूनों के विरोध में रुड़की की गुड़ मंडी में आज किसान महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है। महापंचायत में शामिल होने के लिए हजारों किसान कारों और ट्रैक्टरों से गुड़ मंडी पहुंच चुके हैं। महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के अध्यक्ष नरेश टिकैत किसानों को संबोधित करेंगे।इस दौरान किसी भी राजनीति दल के नेताओं को मंच साझा नहीं करने दिया जाएगा। इसमें सिर्फ किसान अपनी ताकत दिखाएंगे। इससे पहले किसान संगठनों के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने गांव-गांव जाकर किसानों से संपर्क किया और महापंचायत में पहुंचने की अपील की थी। महापंचायत में आज किसान आगे की रणनीति पर चर्चा करेंगे। उत्तराखंड किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुलशन रोड़ ने कहा कि सभी किसान संगठन एकजुट है और महापंचायत में राज्य के किसान अपना वजूद दिखाएंगे।उन्होंने कहा कि किसान केंद्र सरकार के खिलाफ लगातार प्रदर्शन कर रहे है और आगामी छह फरवरी को संयुक्त रूप से जगह-जगह रास्ते बंद कर विरोध दर्ज कराएंगे। भाकियू (टिकैत) के प्रदेश महासचिव रवि कुमार ने कहा कि जब तक सरकार की ओर से कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते, किसान आंदोलन जारी रहेगा। सभी किसान संगठनों की ओर से महापंचायत के लिए जनसंपर्क अभियान चलाया जा रहा है। यूपी से भी किसानो पहुंचे उत्तराखंड के अलावा यूपी से भी हजारों किसान महापंचायत में भाग लेने पहुंचे हैं। महापंचायत को लेकर भाकियू (टिकैत) के पदाधिकारियों ने गांव-गांव जाकर किसानों से जनसंपर्क किया था। महापंचायत में उत्तराखंड के साथ उत्तर प्रदेश से भी बड़ी संख्या में किसानों के पहुंचने से आंदोलन और बल मिलेगा। सुरक्षा के कड़े इंतजाम, एसपी देहात ने संभाली कमान कृषि कानूनों के विरोध में आज होने वाली महापंचायत को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। एसपी देहात प्रमेंद्र डोभाल ने खुद सुरक्षा व्यवस्था की कमान संभाल ली है। आज यहां दो सीओ, छह एसओ, डेढ़ कंपनी पीएसी और मंगलौर समेत आसपास के थानों व कोतवाली का पुलिस स्टाफ तैनात  है। Sources:Agency News

टिप्पणियाँ

Popular Post