सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

देहरादून: मिस फ्रेश फेस सब-टाइटल के लिए आकर्षक लुक में उतरीं मॉडल

  सिनमिट कम्युनिकेशंस की ओर से एस्ले-हॉल स्थित कमल ज्वेलर्स में मिस उत्तराखंड-2021 के फर्स्ट सब-टाइटल का आयोजन किया गया। इस मौके पर 27 मॉडल्स फ्रेश फेस की रेस में शामिल रहीं। हालांकि इसका अनाउंसमेंट ग्रैंड फिनाले वाले दिन ही किया जाएगा।मंगलवार को आयोजित मिस फ्रेश फेस सब-टाइटल को लेकर जजेज ने मॉडल्स को मार्क्स दिए। वहीं मॉडल्स भी फेस को बेहद आकर्षक बनाकर सामने आई। इस मौके पर देहरादून, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी, पौड़ी, धारचूला आदि जगहों की प्रतिभागियों ने इसमें हिस्सा लिया। जजेस में मिस ब्यूटीफुल आइज-2019 प्रीति रावत, डायरेक्टर कमल ज्वेलर्स और मिस फैशन दिवा-2019 बबीता बिष्ट शामिल रहीं। इस मौके पर आयोजक दिलीप सिंधी ने बताया कि इन मॉडल्स के कॉन्फिडेन्स को बढ़ाने के लिए अब ग्रूमिंग क्लासेज शुरू हो गयी है। जिसमें ड्रेस, मेकअप से लेकर उनकी कम्युनिकेशन स्किल्स राउंड को निखारा जा रहा है।बताया कि आयोजन का ग्रैंड फिनाले दिसंबर में होगा। आयोजक राजीव मित्तल ने बताया कि पिछले साल कोरोना की वजह से आयोजन पर ब्रेक लग गया था। बताया कि अलग-अलग राउंड के बाद इसका ग्रैंड फिनाले होगा। इस मौके पर

जब बीएमसी के डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर ने पानी की जगह पर पी लिया सैनिटाइजर, देखें वीडियो

मुंबई / बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर रमेश पवार का एक वीडियो सामने आया है। जिसमें उन्होंने पानी की जगह पर गलती से सैनिटाइजर पी लिया। दरअसल, डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर रमेश पवार सिविक बॉडी के शिक्षा बजट को पेश कर रहे थे और उन्हें बजट भाषण देना था। इसी दौरान उन्होंने पानी पीने के लिए उठाया मगर गलती से सैनिटाइजर पी लिया।समाचार एजेंसी एएनआई ने बीएमसी के डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर रमेश पवार का वीडियो साझा किया है। जिसमें वह साफ-साफ सैनिटाइजर पीते हुए देखे जा सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सैनिटाइजर पीने के मामले में रमेश पवार ने बताया कि मैंने सोचा कि मुझे भाषण देने से पहले पानी पीना चाहिए इसीलिए मैंने बोतल उठा ली और पीने लगा। लेकिन पानी की बोतल और सैनिटाइजर की बोतल एक समान थी। उन्होंने बताया कि मैंने गलती से सैनिटाइजर पी लिया और जब मुझे गलती का अहसास हुआ तो मैंने इसे थूक दिया। आपको बता दें कि कोरोना महामारी के काल में देशवासियों के जीवन जीने का तरीका बदल चुका है और अब सैनिटाइजर आम बात हो गई है। लोग अपने सामानों में अब सैनिटाइजर को भी जगह देने लगे हैं। भले ही वह कोई जरूरी सामान भूल जाएं लेकिन वह सैनिटाइजर और मास्क भूलने की गलती नहीं करते हैं। Sources:PrabhaShakshi Samachar

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव

चित्र

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश