21 दिसंबर से शुरू होगा विधानसभा का शीतकालीन सत्र,अनुपूरक बजट भी लाएगी सरकार


राज्य विधानसभा का शीतकालीन सत्र 21 से 23 दिसंबर के बीच आयोजित होने जा रहा है। सरकार की ओर से सत्र की तिथि तय कर ली गई है। इसके बाद अब विधानसभा ने राजभवन को प्रस्ताव भेजा है। राजभवन की मंजूरी के बाद इस संदर्भ में नोटिफकेशन जारी किया जाएगा। 


दिसम्बर में आयोजित होने वाले विधानसभा सत्र के दौरान सरकार अनुपूरक बजट लाएगी। हालांकि अभी तक इस संदर्भ में कोई अंतिम निर्णय नहीं हुआ है। सूत्रों ने बताया कि विधानसभा सत्र को लेकर कैबिनेट ने कुछ समय पूर्व ही निर्णय ले लिया था।


सरकार की ओर से इस संदर्भ में प्रस्ताव विधायी विभाग को भेजा गया और विधायी से प्रस्ताव मिलने के बाद विधानसभा सचिवालय ने राजभवन को प्रस्ताव भेजा है।


राज्यपाल को कोविड हो जाने की वजह से अभी तक फाइल पर अनुमोदन नहीं मिल पाया है। लेकिन अब राज्यपाल के पूरी तरह से स्वस्थ होने के बाद जल्द अनुमोदन मिलने की उम्मीद है।


शीतकालीन सत्र पर राजभवन की मुहर लगने के बाद सरकार के सामने एक बार सत्र को आयोजित करने की चुनौती होगी। क्योंकि इससे पहले सरकार को कोविड संक्रमण की वजह से सिर्फ एक ही दिन का सत्र आयोजित करना पड़ा था। 

सोमवार को सीएम, रेखा आर्य देंगी सवालों के उत्तर 
देहरादून। 
शीतकालीन सत्र को देखते हुए विधानसभा ने नए सिरे से कार्य दिवस आवंटन जारी कर दिया है। इसके तहत सदन के दौरान सोमवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और महिला विकास राज्य मंत्री से संबधित विभागों के प्रश्नों के जबाव दिए जाएंगे। विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल की ओर से इसके आदेश किए गए हैं।


आदेश के अनुसार मंगलवार को कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और यशपाल आर्य, बुधवार को कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और मदन कौशिक, गुरुवार को कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय और राज्य मंत्री डॉ धन सिंह रावत जबकि शुक्रवार को कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के विभागों के उत्तर दिए जाएंगे।


विधानसभा सचिवालय की ओर से सत्रावसान के बाद प्रश्नों से संबंधित दिवस आवंटन किया जाता है। सोमवार को आमतौर पर मुख्यमंत्री से संबंधित विभागों के प्रश्नों के जबाव दिए जाते हैं। लेकिन इस बार सोमवार को राज्य मंत्री रेखा आर्य के विभाग भी शामिल किए गए हैं।


 


Sources:HindustanSamachar