जाखन नदी किनारे 12 बीघा सरकारी भूमि से हटाया अतिक्रमण, लोगों ने किया विरोध



माजरी ग्रांट सभा के लाल तप्पड़ जाखन नदी के किनारे तहसील प्रशासन ने नदी श्रेणी की करीब 12 बीघा भूमि पर सेअतिक्रमण हटाया। गुरुवार को डोईवाला तहसीलदार रेखा आर्य के नेतृत्व में तहसील और पुलिस टीम माजरी ग्रांट के लालतप्पड़ क्षेत्र में पहुंची।




 


डोईवाला / देहरादून / माजरी ग्रांट सभा के लाल तप्पड़ जाखन नदी के किनारे तहसील प्रशासन ने नदी श्रेणी की करीब 12 बीघा भूमि पर सेअतिक्रमण हटाया। गुरुवार को डोईवाला तहसीलदार रेखा आर्य के नेतृत्व में तहसील और पुलिस टीम माजरी ग्रांट के लालतप्पड़ क्षेत्र में पहुंची। वहां पर अतिक्रमणकारियों ने करीब 12 बीघा सरकारी भूमि पर झोपड़ियां बना रखी थी। जैसे ही टीम ने कार्रवाई शुरू की तो कुछ लोगों ने विरोध किया लेकिन उनका विरोध ज्यादा देर टिक नहीं पाया। तहसील टीम ने जेसीबी के माध्यम से झोपड़ियों को ध्वस्त कर अतिक्रमण हटाया।


तहसीलदार ने बताया कि ग्राम सभा और नदी श्रेणी की भूमि पर किसी भी तरह से अवैध कब्जा बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने अतिक्रमणकारियों को भविष्य में भी सरकारी भूमि पर कब्जा न करने की चेतावनी दी, अन्यथा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। अतिक्रमण हटाओ अभियान में कानूनगो आत्माराम, लालतप्पड पुलिस चौकी इंचार्ज सत्यपाल सिंह भंडारी, लेखपाल सुधीर सैनी, ग्राम प्रधान अनिल पाल, उपप्रधान रामचंद्र, ग्राम पंचायत सदस्य मुकेश कुमार, हिम्मत सिंह उप प्रधान रामचंद्र और पुलिस बल शामिल था।



 

रेलवे रोड नाले के ऊपर से हटेगा अतिक्रमण


रेलवे रोड घाट चौराहा से लेकर अग्रवाल धर्मशाला तक नाले के ऊपर अतिक्रमण करने वाले 22 दुकानदारों के खिलाफ एक सप्ताह बाद नगर निगम प्रशासन कार्रवाई करेगा। निगम की ओर से दुकानदारों को नोटिस जारी किए गए हैं।रेलवे रोड पर घाट चौराहा से लेकर अग्रवाल धर्मशाला के सामने तोतादरी मठ तक नाले के ऊपर व्यापारियों ने अतिक्रमण किया हुआ है। नगर निगम के द्वारा इन सभी अतिक्रमणकारियों की जांच करने के बाद अतिक्रमण की गई भूमि व सड़क की नाप पूर्व में कर ली गई थी। मुख्य नगर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल ने बताया कि नाले के ऊपर अतिक्रमण करने वाले 22 दुकानदारों को चिह्नित किया गया है। 


इन्हें पहले भी अतिक्रमण हटाने के लिए कहा गया था, लेकिन इन्होंने इस पर कोई अमल नहीं किया। नगर आयुक्त ने बताया कि गुरुवार को 22 में से 13 दुकानदारों को अंतिम नोटिस दे दिया गया है। शेष नौ दुकानदारों को शुक्रवार को नोटिस थमा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि नोटिस में इन सभी को एक सप्ताह के भीतर चिह्नित अतिक्रमण स्वयं तोड़ने के लिए कहा गया है। अगर ऐसा नहीं होता है तो नगर निगम बलपूर्वक अतिक्रमण को हटाएगा।


 


Sources:जेएनएन