सत्ता के संरक्षण में अराजकता फैला रहे असामाजिक तत्व: बाबा बलराम दास


कमल खडका


हरिद्वार / राष्ट्रीय संत समिति के प्रवक्ता बाबा बलराम दास हठयोगी ने तीन दिन पूर्व चंद्राचार्य चैक पर गैस पाईप लाईन में रिसाव को लेकर हुए विवाद में भाजपा पार्षद पति सचिन बेनीवाल द्वारा समाजसेवी पंडित अधीर कौशिक के साथ की गयी अभद्रता की निंदा करते हुए कहा कि सामाजिक सरोकारों से जुड़े लोगों द्वारा शहर की हालत पर चिंता जताए जाने पर उन पर हमला किया जा रहा है। जो कि चिंताजनक है। इससे आम शहरवासियों के लिए भी खतरा उत्पन्न हो गया है।


प्रैस क्लब में पत्रकारवार्ता करते हुए बाबा हठयोगी ने कहा कि अलग राज्य बनने के बाद तथा तीन तीन कुंभ मेले आयोजित होने के बाद भी शहर में अव्यवस्थाओं का बोलबाला है। शुक्रवार को चंद्राचार्य चैक पर गैस पाईप लाईन में रिसाव को लेकर पंडित अधीर कौशिक द्वारा व्यवस्थाओं पर सवाल उठाया गया तो सवाल उठाने से भड़के सत्तारूढ़ दल के पार्षद पति ने उन पर हमला कर दिया। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि शराब, चरस, स्मैक, गांजा, चक्री नेट आदि धंधों में संलिप्त असामाजिक तत्व सत्ता के संरक्षण में शहर में अराजकता का माहौल पैदा कर रहे हैं। इससे भाजपा की छवि भी खराब हो रही है।


भाजपा प्रदेश व जिला अध्यक्ष ऐसे लोगों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई करें। बाबा हठयोगी ने कहा कि यदि अराजकता का माहौल पैदा कर समाज में भय पैदा करने की कोशिशें जारी रही तो भाजपा को चुनाव में इसका भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। पार्षद पति को समाजसेवी पंडित अधीर कौशिक से माफी मांगनी चाहिए। भारतीय साधु समिति के अध्यक्ष स्वामी सत्यव्रतानन्द सरस्वती ने कहा कि विरोध में उठने वाली आवाजों का दबाने का प्रयास किया जा रहा है। जिसे कतई सहन नहीं किया जाएगा। लोकतंत्र में जनता सर्वोच्च है और जनता को व्यवस्थाओं पर सवाल पूछने का पूरा हक है। जनता की आवाज को दबने नहीं दिया जाएगा।


Source :sauhard sandesh