सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

छठ पर्व: अब महिलाओं को छठ पर नहीं होगी दिक्कत,तैयार किए नगर निगम ने छठ पार्क और सूर्य मंदिर

 


 देहरादून /  छठ पूजन के लिए अब महिलाओं को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। चलते पानी में सूर्य देव को अर्घ्य देने के लिए दून शहर में महिलाओं को टपकेश्वर मंदिर और मालदेवता जाना पड़ता था, लेकिन अब नगर निगम ने ब्रह्मपुरी में छठ पार्क बना दिया है। इसमें जल का कुंड तैयार किया गया है और नहर के जरिये इसमें पानी आएगा। शुक्रवार शाम महापौर सुनील उनियाल गामा ने निर्माण का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सूर्य देव के मंदिर में दर्शन भी किए। महापौर ने दावा किया कि अमृत योजना के तहत उत्तराखंड में बनने वाला यह पहला सूर्य देव मंदिर व छठ पार्क हैं। आपको बता दें कि आठ नवंबर से नहाय खाय के साथ छठ पर्व शुरू होगा।  महापौर ने बताया कि रविवार तक निर्माण से संबधित सभी कार्य पूरे करने का आदेश दिया गया है, ताकि छठ पूजन पर सोमवार को पार्क का उद्घाटन किया जा सके। छठ पार्क में एक नहर भी तैयार की जा रही है। यह नहर पानी के भराव व उसकी निकासी के लिए सहायक होगी। छठ पार्क में ड्रेनेज प्रक्रिया मजबूत रहे, इसके पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। वार्ड संख्या-74 ब्रह्मपुरी में पिछले लंबे समय से जनप्रतिनिधि व आमजन छठ पार्क बनाने की मांग कर रहे थे। विधायक से लेकर महापौर तक गुहार लगाई गई, तब जाकर अमृत योजना में यह कार्य मंजूर हो पाया।शुक्रवार को निगम अधिकारियों और क्षेत्रीय पार्षद सतीश कश्यप समेत निरीक्षण के दौरान महापौर गामा ने निर्माण कार्य का अवलोकन किया। महापौर ने कहा कि साढ़े छह बीघा भूमि पर बने इस छठ पूजा पार्क से पूर्वांचल समाज के जन को छठ पूजा पर सहूलियत होगी। पूजा-अर्चना करने को अलग से एक कुंड स्थापित किया गया है। पास में ही छोटी नहर का भी निर्माण किया गया है, जिसके जरिये श्रद्धालु भगवान सूर्य को जल अर्पित कर सकेंगे। महापौर ने कहा कि 75 लाख रुपये की धनराशि से पूरी होने वाली इस परियोजना में भगवान सूर्य देव के मंदिर का निर्माण भी किया गया है। छठ पार्क के समीप फुटपाथ भी तैयार किया जाएगा।

टिप्पणियाँ

Popular Post