सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

महाराष्ट्र: अहमदनगर जिला अस्पताल में लगी भीषण आग, 10 कोरोना मरीजों की जलकर मौत

 


 महाराष्ट्र में अहमदनगर जिला अस्पताल से एक बुरी खबर आई है। महाराष्ट्र के अहमदनगर जिला अस्पताल के आईसीयू (इंटेंसिव केयर यूनिट) में आज सुबह भषण आग लग गई, जिसमें दस मरीजों की जलकर मौत हो गई। एक अन्य व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया है। अहमदनगर के जिला कलेक्टर राजेंद्र भोसले ने इस घटना की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि यह आग सिविल अस्पताल के कोरोना वार्ड में लगी थी, जिसकी वजह से दस कोरोना मरीजों की जान चली गईअहमदनगर नगर निगम के अग्निशमन विभाग के प्रमुख शंकर मिसाल ने कहा कि आग सुबह करीब 11 बजे लगी। फिलहाल, अभी तक आग के कारणों का पता नहीं चल पाया है। राहत की बात यह है कि आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया है। प्रारंभिक जानकारी से पता चलता है कि यह हादसा शॉर्ट सर्किट के कारण शुरू हुआ होगा। 


आग पर काबू पाने के लिए दमकलकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी है। विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट कर इस घटना पर दुख जताया है। भाजपा नेता ने कहा कि अहमदनगर से बहुत ही चौंकाने वाली और परेशान करने वाली खबर है। नगर सिविल अस्पताल आग की घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। उन्होंने इस हादसे की गहराई से जांच करने की मांग की और कहा कि सभी जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।बता दें कि अस्पताल में आग लगने की घटना के बाद ही चारों ओर चीख-पुकार मच गई। अस्पताल में सभी अपनी जान बचाने को इधर-ऊधर भागते दिखे। समाचार एजेंसी एएनआई ने जो तस्वीर जारी की है, उसमें देखा जा सकता है कि यह घटना कितनी भयावह थी। अस्पताल का वार्ड पूरी तरह से जलकर राख दिख रहा है। माना जा रहा है कि सरकार इस हादसे की जांच के आदेश देगी।

टिप्पणियाँ

Popular Post