सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

भारत पर बुरी नजर: चीन ने पाकिस्तान को दिया विध्वंसक युद्धपोत,ड्रैगन बिछा रहा समुद्र में जाल

 


 भारत पर बुरी नजर रखने वाले चीन ने समुद्र में जाल बिछाना शुरू कर दिया है। चीन ने पाकिस्तान को एक विध्वंसक युद्धपोत दिया है, जिससे पाकिस्तान की नौसेना की ताकत में बड़ा इजाफा होगा। चीनी सरकारी मीडिया ने बताया है कि बीजिंग ने पाकिस्तान को सबसे नया और एडवांस्ड वॉरशिप दिया है। ग्लोबल टाइम्स की एक रिपोर्ट मुताबिक चाइना स्टेट शिपबिल्डिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड (CSSC) द्वारा डिजायन किए गए और बनाए गए वॉरशिप को शंघाई में एक कमीशन समारोह में पाकिस्तानी नौसेना को सौंपा गया है।पाकिस्तानी नौसेना ने इस टाइप 054A/P युद्धपोत को पीएनएस तुगरिल का नाम दिया है। 


नौसेना ने कहा है कि तुगरिल चार तरह के 054 वॉरशिप का पहला भाग है जिसका निर्माण पाकिस्तानी नौसेना के लिए किया जा रहा है।बता दें कि टाइप 054 वॉरशिप के लिए दोनों देशों ने 2017 में साइन किए थे। इसी के तहत पहला वॉरशिप अगस्त 2020 में तैयार हुआ था जिसकी अब टेस्टिंग की गई है। चीनी नौसेना ने समुद्र में कम से कम 30 टाइप 054 वॉरशिप तैनात किए हुए हैं।पीपल्स लिबरेशन आर्मी के नेवल रिसर्च एकेडमी के एक सीनियर रिसर्चर झांग जुंशे ने बताया है कि पुराने चीनी युद्धपोतों की तुलना में यह नई वॉरशिप बेहतर वायु रक्षा क्षमता प्रदान करती है क्योंकि इसकी रडार प्रणाली बेहतर है और यह लंबी दूरी की मिसाइलों की से लैस है।

टिप्पणियाँ

Popular Post