सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

विपक्ष के हंगामे के बीच कृषि कानून वापसी बिल लोकसभा में पास, राकेश टिकट बोले- आंदोलन जारी रहेगा

  विपक्ष के हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल पास हो गया। हालांकि कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सदन में विधेयक पर चर्चा की मांग की। इससे पहले विपक्षी सांसदों के नारेबाजी के बीच लोकसभा में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कृषि क़ानून निरसन विधेयक 2021 पेश किया। राज्यसभा में भी आज ही यह बिल पेश किया जाएगा। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पहले ही तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान कर दिया था। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में इस बात की घोषणा की थी। उसके बाद इसे कैबिनेट की बैठक में भी मंजूरी मिल गई थी।   टिकैत का बयान वहीं, लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल के पास हो जाने के बाद राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक एमएसपी को लेकर हमारी मांगे पूरी नहीं होती तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि जिन 700 किसानों की मृत्यु हुई उनको ही इस बिल के वापस होने का श्रेय जाता है। MSP भी एक बीमारी है। सरकार व्यापारियों को फसलों की लूट की छूट देना चाहती है। आंदोलन जारी रहेगा। टिकैत ने कहा कि तीन मामलों का समाधान हो गया है अभी 1 मामला बाकी है। 1

परमबीर सिंह केस: जबरन वसूली के मामले में ई.डी ने दो और पुलिस अधिकारियों को किया गिरफ्तार

 


 मुंबई /  महाराष्ट्र के अपराध अन्वेषण विभाग (सीआईडी) ने पूर्व में मुंबई अपराध शाखा में पदस्थ रहे चुके दो पुलिस अधिकारियों को सोमवार को गिरफ्तार किया। इन दोनों पुलिस अधिकारियों और मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह के खिलाफ मरीन ड्राइव थाने में जबरन वसूली का मामला दर्ज है। 


एक अधिकारी ने बताया कि इन दो अधिकारियों में से एक पुलिस अधीक्षक नंदकुमार गोपाले खंडाला पुलिस प्रशिक्षण केंद्र में पदस्थ हैं और पुलिस निरीक्षक आशा कोरके नैगांव में पदस्थ हैं।रियल एस्टेट कारोबारी श्यामसुंदर अग्रवाल ने 22 जुलाई को इनके खिलाफ जबरन वसूली का मामला दर्ज करवाया था। यह गिरफ्तारी इसी सिलसिले में की गई है। प्राथमिकी में परमबीर सिंह समेत सात लोगों के नाम हैं।

टिप्पणियाँ

Popular Post