सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

यमुनानगर : कबाड़ गोदाम में लगी भीषण आग, झुलसने से तीन बच्चों समेत 4 की मौत, मां घायल

 


पुलिस ने बताया कि कबाड़ गोदाम में लगभग दो बजे अचानक आग लग गई और जल्द ही इसने वहां रखे कबाड़ को अपनी चपेट में लेते हुये भीषण रूप धारण कर लिया। इस दौरान गोदाम की ऊपरी मंजिल में सो रहे परिवार को अपनी चपेट में ले लिया। आग इतनी तेजी से फैली कि इसने परिवार के सदस्यों को भागने का भी मौका नहीं दिया। इस घटना में तीन बच्चों और इनके पिता की जलने से मौत हो गई जबकि मां गम्भीर रूप से झुलस गई है। यह परिवार ऊपरी मंजिल पर बने एक कमरे में रहता था। इसके अलावा अन्य कमरों में और भी मजदूर रहते हैं जो नीचे बनी कबाड़ी की दुकान और  गोदाम में काम करते हैं। मृतकों की शिनाख्त नियामुद्दीन (37), बेटी फिजा(12), बेटा चांद(8) और रेहान(तीन) की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि नियामुद्दी की पत्नी नसीमा (25) बुरी तरह से झुलस गईं। उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत गम्भीर बताई जाती है। यह परिवार मूलरूप से बिहार के मधुबन जिले के मल्किमादीपुर गांव का निवासी है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिये हैं। 

टिप्पणियाँ

Popular Post