सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

दिल्‍ली : जहरीली गैस फैलने से 12 लोग अस्पताल में भर्ती, आर के पुरम में दहशत

 


 दिल्ली के आर के पुरम में देर रात हड़कंप मच गया जब इलाके में जहरीली गैस फैलने से अफवाह फैल गयी। किसी ने इलाके लोगों से कहा कि बगल के सीआरपीएफ (CRPF) या एनएसजी (NSG) कैम्प से जहरीली गैस का रिसाव हो रहा है। इसके बाद कुछ लोगों के आंखों में तेजी से जलन भी होने लगी। देखते ही देखते यह गैस पूरे इलाके में फैल गयी। गैस के रिसाव के कारम इलाके में हड़कंप मच गया और स्‍थानीय लोगों ने बताया कि गैस से कई लोग बेहोश हो गए, जिसके बाद 12 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराय़ा गया है। समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि कल रात दिल्ली के आरके पुरम में एकता विहार में जहरीली गैस के संपर्क में आने से आंखों में खुजली की शिकायत के बाद कम से कम 12 लोगों को अस्पताल ले जाया गया। पुलिस ने कहा कि डीडीएमए टीम के साथ दमकल की गाड़ियां और दो एम्बुलेंस भी मौके पर पहुंचीं, पुलिस ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है।पुलिस ने बताया कि एकता विहार इलाके में किसी भी गैस सिलेंडर में आग लगने की सूचना नहीं है और न ही कहीं से धुंआ निकलता देखा गया है। इसके अलावा आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।इसके अलावा आपको बता दे कि दिल्ली SAFAR-India के अनुसार, वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) वर्तमान में 'बहुत खराब' श्रेणी में 339 (कुल मिलाकर) है।

टिप्पणियाँ

Popular Post