कोरोनाकाल में मदद को बच्चे भी नहीं पीछे,गुल्लक के पैसे से बांट रहे राशन

गुल्लक व जेब खर्च के पैसे से बच्चों ने जरूरतमंदों की मदद की । इन बच्चों में पैसे एकत्रित कर परिजनों की मदद से खाद्य सामग्री की खरीदारी की। इसके बाद इन बच्चों ने 13-13 किलो का 40 से ज्यादा राशन किट तैयार किया। इन बच्चों ने प्रेमनगर छेत्र में रहने वाले जरूरतमंदों के बीच इस कीट का वितरण किया।छात्र अमोघ नारायण मीणा ने कहा कि उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर इसके लिए एक योजना तैयार की। फिर सभी ने अपने जेब खर्च एवम गुल्लक के पैसे को एकत्रित किया। जब कुछ पैसे इकठ्ठे हो गए तो राशन, सैनिटाइजर, मास्क, फ्रूट जूस आदि सामानों की खरीदारी करने के बात किट तैयार कर इसका वितरण किया गया। प्रेमनगर निवासी अमोघ को पिछले साल कोरोना काल में बेहतर कार्य के लिए एसएसपी के साथ ही कैंट बोर्ड द्वारा प्रसस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया था। पर्यावरण संरक्षण की दिशा में वन मंत्री भी अमोघ को सम्मानित कर चुके हैं। राशन किट वितरण करने वालो में आदित्य, रणवीर, सुजल आसुतोष, सामाजिक कार्यकर्ता और युवा नेता सन्नी कुमार शामिल रहे। Sources:Hindustan Samachar