सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

देहरादून: पीआरडी जवानों ने सालभर ड्यूटी और युवा कल्याण से हटाने की मांग को लेकर किया सीएम आवास कूच

   प्रांतीय रक्षक दल (पीआरडी)संगठन ने पूरे साल ड्यूटी और युवा कल्याण से हटाने की मांग उठायी है। मंगलवार को उन्होंने सीएम आवास कूच किया। हालांकि पुलिस ने उन्हें हाथी बड़कला पर ही रोक लिया। जहां उन्होनें आगे बढ़ने के लिए हंगामा भी किया। बाद में वे प्रदर्शन करते हुए वहीं धरने पर बैठ गए। उन्होनें पीआरडी को युवा कल्याण विभाग से हटाने की भी मांग की।संगठन के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश प्रसाद के नेतृत्व में पीआरडी जवान रेंजर्स ग्राउंड में एकत्र हुए। इसके बाद वे प्रदर्शन करते हुए रैली के रूप में सीएम आवास की ओर निकले। लेकिन जब वे हाथी बड़कला पहुंचे तो पुलिस ने वहां बैरियर लगाकर उन्हें रोक लिया। जिस पर वहां हंगामा भी हुआ। बाद में ये जवान वहीं प्रदर्शन करते हुए धरने पर बैठ गए। दिनेश प्रसाद ने बताया कि पीआरडी जवान विभिन्न सरकारी, गैर सरकारी कार्यालयों में पुलिस जवानों के जैसे ही कोविड महामारी में ड्यूटी देते रहे। लेकिन उन्हें कोविड फ्रंट लाइन वॉरियर तक नहीं कहा गया।प्रदेश में इस समय 9230 पीआरडी जवान हैं, जिसमें से सिर्फ 700 को ही ड्यूटी दी जा रही है, बाकी खाली घर बैठे हैं। इस बीच कई बिना प्रशिक्षण लिए ल

देहरादून-हफ्ते में तीन दिन चलेंगी काठगोदाम और लिंक एक्सप्रेस

कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होने पर रेल मंडल मुख्यालय ने देहरादून - काठगोदाम एक्सप्रेस और देहरादून - प्रयागराज लिंक एक्सप्रेस के फेरों को बढ़ाने का निर्णय लिया है। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक अब दोनों ट्रेनें सप्ताह में दो दिन के बजाय तीन दिन संचालित की जाएंगी। देहरादून- प्रयागराज लिंक एक्सप्रेस सप्ताह में तीन दिन सोमवार, बृहस्पतिवार और शनिवार को देहरादून से प्रयागराज के लिए संचालित की जाएगी। देहरादून - काठगोदाम एक्सप्रेस मंगलवार, बृहस्पतिवार और शनिवार को जाएगी।बता दें कि उतराखंड समेत देश के तमाम राज्यों में कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए रेलवे बोर्ड की ओर से ज्यादातर ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया था। देहरादून से सिर्फ चुनिंदा ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। इनमें देहरादून - प्रयागराज लिंक एक्सप्रेस, देहरादून - काठगोदाम एक्सप्रेस, देहरादून- हावड़ा उपासना एक्सप्रेस, देहरादून - गोरखपुर राप्तीगंगा एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें ही शामिल थीं। स्टेशन अधीक्षक( संचालन) सीताराम शंकर ने बताया कि ट्रेनों में यात्रियों की संख्या कम होने की वजह से रेलवे बोर्ड ने देहरादून - प्रयागराज लिंक एक्सप्रेस व देहरादून- काठगोदाम एक्सप्रेस के फेरों की संख्या सप्ताह में तीन दिन से घटाकर दो दिन कर दी थी लेकिन अब रेल मंडल मुख्यालय इन दोनों ट्रेनों के फेरों को बढ़ाने का निर्णय लिया है। कुछ और ट्रेनों के नए सिरे से संचालित होने की उम्मीद जगी कोरोना काल में स्थितियां होने के चलते दर्जनभर ट्रेनों के नए सिरे से संचालन की उम्मीद जगी है। फिलहाल देहरादून-नईदिल्ली शताब्दी, जनशताब्दी के अलावा देहरादून - उज्जैन एक्सप्रेस, देहरादून - इंदौर एक्सप्रेस, देहरादून - बांद्रा एक्सप्रेस, देहरादून - कोटा नंदा देवी एक्सप्रेस, देहरादून कोच्चि वेली एक्सप्रेस, देहरादून- हावड़ा एक्सप्रेस, देहरादून- वाराणसी जनता एक्सप्रेस समेत दर्जनभर ट्रेनों का संचालन ठप है। उम्मीद है कि इन ट्रेनों में से जल्द ही कुछ ट्रेनों का संचालन सिरे से शुरू किया जाएगा जिससे लोगों को राहत मिल सकेगी। Sources:Amarujala

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव

चित्र

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश