उत्तराखंड में ‘आसपा’की एन्ट्री: उत्तराखंड में पूरी मजबूती के साथ चुनाव लड़ेगी आजाद समाज पार्टी-चंद्रशेखर आजाद

आजाद समाज पार्टी उत्तराखंड में मजबूती के साथ सभी विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव लड़ेगी। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि पार्टी को उत्तराखंड में अपार जनसमर्थन मिलेगा और पार्टी एक विकल्प के रूप में उभरेगी। बड़ी आबादी एससी, पिछड़ी जातियों और अल्पसंख्यक समुदायों की प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि पार्टी उत्तराखंड की राजधानी गैरसैंण के बजाय कालागढ़ को करने की पक्षधर है। क्योंकि राज्य की कुल आबादी की 60 से 70 प्रतिशत जनसंख्या तीन जिलों में निवासी करती है। इसमें बड़ी आबादी एससी, पिछड़ी जातियों और अल्पसंख्यक समुदायों की है। आर्थिक रूप से कमजोर लोग गैरसैंण जाकर सरकार को अपनी परेशानी नहीं बता सकते आर्थिक रूप से कमजोर यह लोग गैरसैंण जैसे पहाड़ी क्षेत्र में जाकर सरकार को अपनी परेशानी नहीं बता सकते। साथ ही गैरसैंण में रहने, खाने, पीने आदि की समस्या है, जबकि कौलागढ़ में सभी सुविधाएं पहले से ही मौजूद हैं। उन्होंने गरीब एवं भूमिहीनों के जीवनोपार्जन के लिए गवर्नमेंट ग्रांट एक्ट को लागू करने की भी पैरवी की।  राज्य में स्पेशल कंपोनेंट प्लान के पैसों का ठीक से प्रयोग नहीं हो रहा कहा कि राज्य में स्पेशल कंपोनेंट प्लान के पैसों का ठीक से प्रयोग नहीं हो रहा है। कहा कि इस प्लान के तहत मिलने वाली धनराशि को गरीब, अनुसूचित जाति, जनजाति के छात्रों के लिए हायर एजुकेशन, लाइब्रेरी, छात्रावास बनाने में खर्च किया जाना चाहिए। सफाई कर्मचारियों की स्थायी नियुक्ति का मामला भी उठाया उन्होंने पर्वतीय जनपदों के लोगों को मूल निवास और मैदानी मूल के लोगों को स्थायी निवास प्रमाणपत्र दिए जाने का भी विरोध किया। उन्होेंने सफाई कर्मचारियों की स्थायी नियुक्ति का मामला भी उठाया। प्रेस वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष महक सिंह, महासचिव जावेद अख्तर, प्रदेश संयोजक चिंरजीलाल भारती, उपाध्यक्ष मौ. एहतराम, जिलाध्यक्ष ललिल कुमार, रामू राजौरिया, जावेद खान आदि मौजूद रहे। Sources:AmarUjala