सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

लखीमपुर खीरी हिंसा: जांच कर रही एस.आई.टी ने चश्मदीद गवाहों से साक्ष्य देने के लिए निकाला विज्ञापन

    लखनऊ  /   लखीमपुर हिंसा कांड में उत्तर प्रदेश सरकार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा सभी गवाहों को सुरक्षा देने के निर्देश के बाद विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) ने जांच की गति और तेज कर दी है। एसआइटी ने चश्मदीद गवाहों से साक्ष्य देने का अनुरोध करते हुए विज्ञापन निकाला है। विज्ञापन में एसआइटी अपने सदस्यों के संपर्क नंबर जारी किया है। प्रत्यक्षदर्शियों से आगे आकर अपने बयान दर्ज कराने और डिजिटल साक्ष्य प्रदान करने के लिए उनसे संपर्क करने का आग्रह करती किया है। एसआइटी का कहना है कि ऐसे लोगों की जानकारी गोपनीय रखी जाएगी और उन्हें पुलिस सुरक्षा दी जाएगी। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार को आदेश दिया है कि लखीमपुर खीरी हिंसा मामले के सभी गवाहों को गवाह सुरक्षा योजना, 2018 के मुताबिक पुलिस सुरक्षा दी जाए। साथ ही कोर्ट ने अन्य महत्वपूर्ण गवाहों के बयान भी सीआरसीपी की धारा-164 के तहत मजिस्ट्रेट के समक्ष जल्द दर्ज कराने का निर्देश देते हुए कहा कि अगर बयान दर्ज करने के लिए मजिस्ट्रेट उपलब्ध नहीं हैं तो जिला जज नजदीक के मजिस्ट्रेट से बयान दर्ज कराएंगे। इसके अलावा कोर्ट ने हिंसा म

8 फरवरी को राज्यसभा में PM मोदी दे सकते हैं किसानों के मुद्दे पर जवाब

संसद का बजट सत्र जनवरी की 29 तारीख से शुरू हो गया। भारी हंगामें के बीच राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही जारी है। आज कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कांग्रेस पर राज्यसभा में जमकर निशाना साधा। लेकिन कृषि कानूनों को लेकर देश के प्रधानमंत्री संसद में क्या बोलते हैं इसको लेकर देश-दुनिया की निगाहें हैं। खबरों के अनुसार पीएम मोदी राष्ट्रपति के धन्यवाद प्रस्ताव पर 8 फरवरी यानी सोमवार को जवाब दे सकते हैं। सूत्रों के अनुसार पीएम मोदी किसानों से जुड़े मुद्दे पर हर सवालों का जवाब देंगे। पीएम मोदी का संबोधन सुबह साड़े 10 बजे के करीब राज्यसभा में होने की संभावना है। बजट सत्र में तीनों कृषि कानूनों की वजह से विपक्ष का हंगामा जारी है। ऐसे में सदन को कई बार स्थगित भी करना पड़ा। ऐसे में जब पीएम मोदी बोलते हैं तो सारा देश दम साध कर उन्हें सुनता है। खास संवाद शैली और वाकपटुता से विरोधियों को चित करने की कला में महासरत रखने वाले पीएम मोदी के संबोधन का हर किसी को इतंजार है। Sources:Agency News

टिप्पणियाँ

Popular Post