कोरोना लॉकडाउन के बाद जम्मू-कश्मीर में बढ़ी पर्यटकों की संख्या



 कश्मीर में पर्यटक आगमन, जोकि कोरोना लॉकडाउन के कारण अप्रैल-जून 2020 के दौरान शून्य हो गई थी, आज इस सर्दी को दिसंबर माह में 13,055 पर्यटक का आगमन हुआ है। बता दें कि यह जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के चार महीने बाद दिसंबर 2019 के दौरान कश्मीर में आने वाले पर्यटकों की संख्या से 88% की छलांग है। हालांकि, दिसंबर 2020 में पर्यटक आगमन दिसंबर 2018 में 38,024 आगमन की तुलना में अभी भी कम है। पिछले साल 2020 अप्रैल-मई में जहां पर्यटक की संख्या शून्य थी वहीं दिसंबर 2020 में टूरिस्ट की संख्या 4.6 लाख तक बढ़ी। यह संख्या साल 2020 नवबंर में लगभग  2.2 लाख से दोगुना से अधिक है।खबर के अनुसार, अप्रैल 2020 से जम्मू क्षेत्र में विदेशी पर्यटकों का आना -जाना लगा हुआ है, दिसंबर 2020 में कश्मीर में केवल 89 विदेशी आए, वहीं जुलाई में 11 से लगातार टूरिस्ट की वृद्धि देखने को मिली। एक सूत्र के अनुसार, जम्मू-कश्मीर आने वाले विदेशी लोग भारत में बड़े पैमाने पर निवास करते, या बायो-बबल उड़ानों से आने वाले प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे। वैसे तो दिसंबर माह में पर्यटन को बढ़ावा देने का श्रेय 12,966  घरेलू पर्यटक यातायात को दिया जाता है, क्योंकि इन घरेलू पर्यटक यातायात के कारण ही कश्मीर में दिसंबर माह में टूरिस्ट की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। जम्मू-कश्मीर सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने टीओआई को बताया कि अनुच्छेद 370 के कारण पिछले महीने कश्मीर में पर्यटकों के आगमन में वृद्धि इस क्षेत्र में सामान्य स्थिति का उत्साहजनक संकेत है।अधिकारी ने कहा, "जब अंतरराष्ट्रीय उड़ानें परिचालन में थीं तब दिसंबर 2019 में कश्मीर आने वाले पर्यटकों की संख्या, दिसंबर 2020 में आने वाले लोगों की तुलना में आधे से भी कम थी।

Sources:Agency News