सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

, दौलत से ज्यादा सादगी के लिए था मशहूर,शहर में पुराने स्कूटर से घूमता था पीयूष

 


इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर से आयकर विभाग ने 250 करोड़ रुपये बरामद किए हैं लेकिन सैकड़ों करोड़ रुपये अपने घर में भरकर रखने वाले पीयूष जैन को उनके गांव कन्नौज में उनकी सादगी के लिए जाना जाता था। वह अभी तक पुराने स्कूटर से ही कन्नौज में घूमा करता था। इतना ही नहीं पीयूष जैन ने घर के बाहर दो गाड़ियां रखी थीं, जिनमें से एक क्वॉलिस और दूसरी मारूति थी।जैन को करोड़ों रुपये की टैक्स चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। अधिकारियों को पीयूष जैन के कन्नौज स्थित घर और फैक्ट्री में छापेमारी के बाद कुल 194 करोड़ रुपये कैश और 23 किलोग्राम सोना मिला है। छापेमारी की वायरल तस्वीरों में देखा जा सकता है कि कैसे अधिकारियों को नोट गिनने के लिए मशीन का इस्तेमाल करना पड़ रहा है।पीयूष जैन ने परफ्यूम बनाने की कला अपने पिता से सीखी थी, जो पेशे से केमिस्ट थे। जैन ने कानपुर में अपना परफ्यूम का कारोबार शुरू किया और फिर 15 साल के अंदर इसे देश के अलग-अलग हिस्सों तक फैलाया। पीयूष जैन का कारोबार अब मुंबई और गुजरात में भी काफी चल रहा है।कारोबार के बढ़ते ही, पीयूष ने अपने भाई अमरिश के साथ मिलकर कन्नौज वाले घर को 700 गज की कोठी में बदल दिया। लेकिन स्थानीय लोगों का कहना है कि जब भी पीयूष अपने गांव आता, तो वह अपने पुराने स्कूटर पर ही सफर करता दिखता था। लोग उसकी सादगी देखकर हैरान होते थे।पीयूष जैन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। माना जा रहा है कि जैन को पूछताछ के लिए अहमदाबाद भी ले जाया जा सकता है। 

टिप्पणियाँ

Popular Post