सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

उत्तराखंड:  जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ वसीम रिजवी  जिहादियों के खिलाफ दर्ज कराएंगे एफआईआर



विवादित पुस्तक के विमोचन और धर्म संसद में भड़काऊ भाषण देने पर दो मुकदमे दर्ज होने के बावजूद जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी मंगलवार को फिर हरिद्वार पहुंच गए। उत्तरी हरिद्वार के भूपतवाला क्षेत्र में एक कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें जितेंद्र नारायण पहुंचे हैं। हालांकि, पुलिस यह दावा कर रही है कि आयोजकों को सख्त हिदायत दे दी गई है।उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी के खिलाफ पिछले डेढ़ महीने के भीतर दो अलग-अलग मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। हरिद्वार जनपद समेत देश में कई जगहों पर उनकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। जिससे चुनावी मौसम में ना सिर्फ माहौल खराब होने का खतरा बना हुआ है, बल्कि गिरफ्तारी न होने से एक बड़े वर्ग की नाराजगी भी सामने आ रही है।लगातार उठ रही गिरफ्तारी की मांग के बीच मंगलवार को जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी एक बार फिर हरिद्वार पहुंचे। इस कार्यक्रम में कई और लोग भी उत्तर प्रदेश व अन्य प्रदेशों से पहुंचे हैं। वहीं, रिजवी के एक बार फिर हरिद्वार पहुंचने से पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया है। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि आयोजकों को सख्त हिदायत दी गई है कि कोई भी ऐसा बयान टिप्पणी ना की जाए जिससे कि माहौल खराब होने का अंदेशा हो। एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार ने बताया कि चुनाव के दौरान शांति व्यवस्था को देखते हुए हर कार्यक्रम व गतिविधि पर बारीकी से नजर रखी जा रही है।



टिप्पणियाँ

Popular Post