सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

प्रियंका गांधी ने जहां करी रैली,उस शहर में कांग्रेस का कार्यालय हो गया बंद

  


गोरखपुर /  वर्ष 2022 के चुनावी समर में उतरने के लिए राजनीतिक दल रोजाना बैठकें कर रहे हैं लेकिन कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। वजह, जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यालय पर ताला लटकना है। 4.80 लाख रुपये के किराया बकाया में मकान मालिक ने कार्यालय पर ताला लगा दिया है। तकरीबन 10 दिन बाद भी कांग्रेसी किराया विवाद नहीं खत्म कर सके हैं। अब जिला कांग्रेस कमेटी शहर में दूसरी जगह कार्यालय के लिए कमरे की तलाश में जुटी है।31 अक्टूबर को कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने तारामंडल क्षेत्र के चंपा देवी पार्क में प्रतिज्ञा रैली की थी। प्रतिज्ञा रैली के अगले दिन मकान मालिक ने कांग्रेस कमेटी के कार्यालय पर ताला लगा दिया था।

किराया विवाद में कार्यालय पर ताला लगाने का मामला सामने आया तो कांग्रेसी किराया जमा करने की जगह आपस में ही भिड़ गए हैं। कांग्रेसी एक-दूसरे पर किराया विवाद को मीडिया में ले जाने का आरोप लगा रहे हैं। कांग्रेस के वाट्सएप ग्रुप पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर लगातार चल रहा है।उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर कांग्रेसी 14 नवंबर से 24 नवंबर तक जिले के सभी नौ विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा भगाओ-महंगाई हटाओ पद यात्रा निकालेंगे। प्रदेश उपाध्यक्ष विश्वविजय सिंह ने बताया कि हर विधानसभा क्षेत्र के कम से कम 60 ग्राम सभाओं व वार्डों से होते हुए 80 किलोमीटर पद यात्रा निकाली जाएगी। रोजाना एक नुक्कड़ सभा होगी। पद यात्रा के लिए कांग्रेसी तैयार हैं।जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यालय के लिए कमरे की तलाश चल रही है। पुराने कार्यालय भवन का बकाया किराया दिया जाएगा। कांग्रेसी विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटे हैं।

 - निर्मला पासवान, जिलाध्यक्ष, जिला कांग्रेस कमेटी।

टिप्पणियाँ

Popular Post