Featured Post

वीकेंड: शनिवार को अधिक संख्या में नैनीताल पहुंचे पर्यटक, हर जगह दिखाई दी भीड़

 

  


 वीकेंड पर आज शनिवार को सराेवर नगरी नैनीताल में पर्यटकों की भारी भीड़ पहुंचीं है। शनिवार को यहां हर जगह लोगों का जमावड़ा लगा रहा। नैनी झील में पर्यटक बोटिंग करते दिखाई दिए। वहीं बता दें कि बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों के लिए आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य है। बॉर्डर पर रिपोर्ट चेक की जा रही है और जिन सैलानियों के पास आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट नहीं हैं उन्हें वापस भेजा जा रहा है। वहीं यदी नैनीताल में स्थानीय लोग या सैलानी बगैर मास्क के घूमते मिले तो उनकी अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर और एंटीजन जांच कराई जाएगी। संक्रमित मिलने पर उन्हें 14 दिन के लिए क्वारंटीन कर दिया जाएगा।

 


 कोराना की दूसरी लहर के हल्की होने और सरकार द्वारा कोरोना कर्फ्यू में ढील देने के बाद नैनीताल समेत आसपास के पर्यटक स्थलों में वीकेंड पर सैलानियों की भीड़ बढ़ रही है। जिला प्रशासन ने सैलानियों के दोपहिया वाहनों से शहर में प्रवेश पर भी पूरी तरह प्रतिबंध लगाया है। बाहर से आने वाले सैलानियों के वाहनों को रूसी और नारायण नगर स्थित अस्थाई पार्किंग में ही खड़ा किया जा रहा है। वहां से सैलानी शटल सेवा से नैनीताल पहुंच रहे हैं।नैनीताल जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह मौसम विभाग की 25 और 26 जुलाई को भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए हाई अलर्ट पर रहें। कहा है कि यदि भारी बारिश होती है तो ऐसे में मार्गों के बाधित होने और अन्य नुकसान की संभावनाएं रहती हैं। इस लिए 24 घंटे अलर्ट पर रहना होगा।

 


वहीं पिछले 24 घंटों में प्रदेश में लगभग एक साल के बाद एक दिन में सबसे कम कोरोना संक्रमित मिले हैं। जबकि कोरोना मरीजों की कोई मौत नहीं हुई। बीते 24 घंटे में छह जिलों में सिर्फ 11 नए संक्रमित मामले सामने आए हैं।पिछले 24 घंटों में 58 मरीज स्वस्थ हुए हैं। 606 सक्रिय मरीजों का इलाज चल रहा है। कुल संक्रमितों की संख्या 341640 हो गई है। अब तक 327664 मरीज संक्रमण को मात दे चुके हैं। प्रदेश की रिकवरी दर 95.91 प्रतिशत दर्ज की गई।


Comments