उत्तराखंड में राष्ट्रीय औसत से कहीं ज्यादा है मृत्यु दर

  


 उत्तराखंड में मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत से कहीं अधिक है। उत्तराखंड में मृत्यु दर 1.53 प्रतिशत है। जबकि राष्ट्रीय स्तर पर मृत्यु दर 1.20 प्रतिशत है। जो आबादी के लिहाज से उत्तराखंड में करीब 28 प्रतिशत अधिक है। कोरोना की दूसरी लहर में उत्तराखंड में संक्रमण के मामले कहीं अधिक हो गए हैं। प्रदेश के गढ़वाल व कुमाऊं मंडल के विभिन्न जिलों में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।  चिंता की बात है कि कोरोना से मरने वालों की संख्या में दिन-प्रतिदिन बढ़ोतरी हो रही है। कोरोना संक्रमण से अभी तक उत्तराखंड में 1868 पॉजिटिव कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है।

कोरोनो संक्रमण से मरने वाले मरीजों की संख्या राजधानी में सबसे अधिक है। प्रदेश में देहरादून जिले में सबसे ज्यादा 1067 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। नैनीताल  जिले में 258 और हरिद्वार जिले 18 संक्रमितों की जान गई है। सबसे कम 10 कोरोना मौत रुद्रप्रयाग जिले में हुई है, जबकि कुमाऊं मंडल के चंपावत जिले में सिर्फ 11 लोगों ने कोरोना से दम तोड़ा है।  

बता दें कि उत्तराखंड में रविवार को भी कोरोना ब्लास्ट जैसी स्थिति सामने आई। कुल 2630 नये मामले सामने आए। कुल संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 124033 पहुंच गया है। अकेले देहरादून में 1281 और हरिद्वार में 572 नये केस सामने आए। रविवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार 20 केस अल्मोड़ा, 15 बागेश्वर, 61 चमोली, 15 चंपावत, 1281 देहरादून, 572 हरिद्वार, 186 नैनीताल, 133 पौड़ी, 14 पिथौरागढ़, 18 रुद्रप्रयाग, 129 टिहरी, 161 यूएसनगर, 25 उत्तरकाशी में संक्रमित मरीज सामने आए। राज्य में कुल एक्टिव केस की संख्या 17293 हो गई है।

संक्रमण दर 3.72 प्रतिशत है। तो रिकवरी दर गिर कर 82.53 प्रतिशत पहुंच गई है। 102367 मरीज ठीक भी हो चुके हैं। रविवार को ठीक होने वाले मरीजों की संख्या का आंकड़ा 708 रहा। रविवार को 30191 मरीज की रिपोर्ट निगेटिव आई। 33332 सैंपल जांच को भेजे गए। अभी 25743 सैंपल की रिपोर्ट आना बाकि है। कुल 12 मरीजों की मौत रविवार को हुई। इनमें मृतकों की उम्र 33 साल से लेकर 85 वर्ष के बीच है। अभी तक कुल 1868 मरीजों की मौत हो चुकी है। राज्य में कंटेनमेंट जोन की संख्या 86 हो गई है। इसमें 26 नैनीताल, आठ हरिद्वार, 44 देहरादून शामिल हैं।

57 वें सप्ताह में सबसे अधिक केस
राज्य में कोरोना के 57 वें सप्ताह में सबसे अधिक केस सामने आए हैं। 11 से 17 अप्रैल के बीच कुल 13924 केस सामने आए। जो अभी तक का सबसे अधिक आंकड़ा है। 31 वें सप्ताह में सबसे अधिक 190 मौतें हुईं थी। 57 वे सप्ताह में 104 मौत के केस सामने आए हैं। 56 वें सप्ताह से तुलना करें, तो मौतों का आंकड़ा चार गुना बढ़ गया है।

जिला                        कोरोना से मौत
अल्मोड़ा                     27
बागेश्वर                      17
चमोली                      19
चंपावत                     11
देहरादून                   1067
हरिद्वार                     186
नैनीताल                    258
पौड़ी                        62
पिथौरागढ़                 48
रुद्रप्रयाग                  10
टिहरी                      18
यूएस नगर                127
उत्तरकाशी               18
कुल                        1868

Sources:Agency News