उत्तराखण्ड के सी.एम ने अजमेर भेजी सदभावना चादर

देहरादून / मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अजमेर में चल रहे सूफी संत ख्वाजा गरीब नवाज के 809 वें वार्षिक उर्स के अवसर पर यहां से सदभावना चादर भेजी। सचिवालय में शुक्रवार को उन्होंने यह चादर दरगाह पिरान कलियर उर्स कमेटी के सदस्यों को सौंपी।इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिकाल से ही सूफी संतों व ऋषियों ने मानवता के कल्याण के लिए जीवन समर्पित कर वसुधैव कुटुंबकम के संदेश को पूरे विश्व में फैलाया है। सद्भावना चादर भेजते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में शांति, विकास और प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षा की कामना के साथ गत वर्षों की भांति यह चादर अजमेर भेजी जा रही है।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास' सूत्रवाक्य के अनुसार उत्तराखंड में भी पिछले चार वर्षों में सभी वर्गों और समुदायों के कल्याण के लिए योजनाएं लागू की गई। भविष्य में भी यह सिलसिला जारी रहेगा। बताया गया कि सद्भावना चादर लेकर दरगाह पिरान कलियर उर्स कमेटी के संयोजक व शायर अफजल मंगलौरी व अन्य सदस्य अजमेर जाएंगे। 22 फरवरी को यह चादर दरगाह ख्वाजा साहब में पेश की जाएगी। इस मौके पर मुख्यमंत्री के सलाहकार डा.नरेंद्र सिंह, ओएसडी धीरेंद्र पंवार, पिरान कलियर के मैनेजर मो.हारून, सदस्य इरशाद खान, समीर खान आदि मौजूद थे। Sources:Agency News