घरों के बाहर आरएफआईडी लगाने की योजना, अब सेंसर बताएगा कूड़ा उठा या नहीं


अगर आपके घर से कूड़ा नहीं उठ रहा है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। नगर निगम ने इसका रास्ता निकाल लिया है। इसके तहत घरों के गेट पर रेडिया फ्रीक्वेंसी आईडेंटिटी डिवाइस (आरएफआईडी) लगाई जाएगी। जो बताएगी कूड़ा उठा या नहीं।


नगर निगम प्रशासन जल्द ही इस पर काम शुरू करेगा। आरएफआईडी के कारण कंपनी किसी भी घर के बाहर से कूड़ा नहीं उठाएगी तो इसकी सूचना वहां लगे सेंसर के जरिये नगर निगम कार्यालय को मिल जाएगी। 
नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय के मुताबिक शहर के 69 वार्डों में चेन्नई एमएसडब्ल्यू कंपनी कूड़ा उठा रही है। जबकि नए वार्डों के लिए जल्द टेंडर होने वाले हैं।
हालांकि, वहां भी कूड़ा उठ रहा है लेकिन इसके बावजूद अब भी तमाम जगहों से कूड़ा कलेक्शन न होने की बात सामने आती है। जिसे देखते हुए सेंसर लगाने की योजना बनाई जा रही है। जिससे निगम क्षेत्र के हर क्षेत्र, हर घर से कूड़ा उठान हो सके।


सर्वे से पता चलेगी मकानों की संख्या 
निगम प्रशासन हाउस टैक्स को लेकर मकानों के सर्वे कराने की तैयारी में जुटा है। जिसके चलते उसके पास निगम क्षेत्र के सभी मकानों की जानकारी आ जाएगी। इसके बाद डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन करने वाली कंपनी के पास मौजूद लिस्ट से उसका मिलान किया जाएगा। इसके बाद सभी मकानों के बाहर डिवाइस लगाई जाएगी। 


सेंट्रलाइज्ड सिस्टम से होगी मॉनिटरिंग 


डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन की निगरानी के लिए सेंट्रलाइज्ड सिस्टम तैयार होगा। जिससे पार्षद निगम में अपने वार्ड में कूड़ा कलेक्शन की स्थिति का रिकॉर्ड देख सकेंगे। इसके अलावा पार्षद मोबाइल एप्लीकेशन के जरिये भी अपने वार्डों में कूड़ा उठान के बारे में जानकारी रख सकेंगे। 


डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन की मॉनिटरिंग बेहद अहम है। रेगुलर मॉनिटरिंग न होने के चलते ही शिकायतें मिल रही हैं। जिसे ध्यान में रखते हुए सेंसर लगाने की योजना बनाई गई है। जल्द ही इसे धरातल पर उतारा जाएगा। 
- विनय शंकर पांडेय, नगर आयुक्त


Source:Amarujala News