सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

एम्स निदेशक की सलाह, ओमिक्रोन हल्का संक्रमण घबराए नहीं

 


नई दिल्ली / 
कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों को लेकर एम्स के डायरेक्टर डाक्टर रणदीप गुलेरिया ने चेतावनी दी है। डाक्टर गुलेरिया ने बुधवार को लोगों को ना घबराने की सलाह दी है। हालांकि, उन्होंने कहा कि इससे सावधान रहने की जरूरत है।एम्स की तरफ से जारी वीडियो संदेश में गुलेरिया ने नए साल की शुभकामनाएं भी दी। उन्होंने कहा, 'मैं सभी को आने वाले नए साल 2022 की शुभकामनाएं देता हूं। इस अवसर पर सभी के लिए खुश, स्वस्थ और समृद्ध रहने की कामना करता हूं। जैसे-जैसे हम आगे बढ़ते हैं, हमारे लिए यह समझना महत्वपूर्ण है कि महामारी खत्म नहीं हुई है, फिर भी हम बेहतर स्थिति में हैं।गुलेरिया ने आगे कहा कि हमारे देश में बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिन्हें टीका लगाया गया है, फिर भी हम बढ़ते मामलों को देख रहे हैं। इसलिए जरूरी है कि हम नियमों का पालन करें, जिसमें मास्क पहनना, शारीरिक दूरी बनाना और भीड़ से बचना शामिल है जिससे हमारे पास कहीं भी सुपर स्प्रेडर न हो। गुलेरिया ने कहा कि ताजा आंकड़ों से पता चलता है कि ओमिक्रोन हल्का संक्रमण है। ओमिक्रोन आक्सीजन में गिरावट का कारण नहीं बनता, इसलिए आक्सीजन की आवश्यकता इतनी अधिक नहीं हो सकती है। इसके अलावा, उन्होंने सभी से अनुरोध किया कि वे आक्सीजन सिलेंडर और दवाओं को अनावश्यक रूप से बर्बाद न करें।'

टिप्पणियाँ

Popular Post