सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

विपक्ष के हंगामे के बीच कृषि कानून वापसी बिल लोकसभा में पास, राकेश टिकट बोले- आंदोलन जारी रहेगा

  विपक्ष के हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल पास हो गया। हालांकि कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सदन में विधेयक पर चर्चा की मांग की। इससे पहले विपक्षी सांसदों के नारेबाजी के बीच लोकसभा में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कृषि क़ानून निरसन विधेयक 2021 पेश किया। राज्यसभा में भी आज ही यह बिल पेश किया जाएगा। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पहले ही तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान कर दिया था। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में इस बात की घोषणा की थी। उसके बाद इसे कैबिनेट की बैठक में भी मंजूरी मिल गई थी।   टिकैत का बयान वहीं, लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल के पास हो जाने के बाद राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक एमएसपी को लेकर हमारी मांगे पूरी नहीं होती तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि जिन 700 किसानों की मृत्यु हुई उनको ही इस बिल के वापस होने का श्रेय जाता है। MSP भी एक बीमारी है। सरकार व्यापारियों को फसलों की लूट की छूट देना चाहती है। आंदोलन जारी रहेगा। टिकैत ने कहा कि तीन मामलों का समाधान हो गया है अभी 1 मामला बाकी है। 1

दिल्ली : बेकाबू हुआ डेंगू अब तक 1530 से अधिक केस

 


 राजधानी दिल्ली में डेंगू का प्रकोप बेकाबू होता जा रहा है। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (SDMC) द्वारा जारी वीकली रिपोर्ट के अनुसार, तीनों निगमों में अब तक डेंगू से मरने वालों लोगों की संख्या बढ़कर छह हो गई है और डेंगू के 1537 मामले सामने आ चुके हैं। तेजी से गंभीर होते हालात को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मोर्चा संभाल लिया है और दिल्ली में बढ़ते डेंगू के मामलों की निगरानी के लिए एक एक्सपर्ट टीम का गठन करेगा।

 दिल्ली में डेंगू की स्थिति की समीक्षा के लिए सोमवार को बुलाई गई एक हाईलेवल मीटिंग के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने केंद्र और राज्यों के बीच सक्रिय समन्वय पर जोर दिया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि डेंगू के हॉटस्पॉट की पहचान, फॉगिंग और समय पर इलाज जैसी जमीनी पहल की जानी चाहिए। केंद्र डेंगू के बढ़ते मामलों वाले राज्यों में विशेषज्ञों की एक टीम भी भेज रहा है। टेस्ट में तेजी लाने की जरूरत पर जोर देते हुए मांडविया ने कहा कि कई गरीब लोगों का ठीक से इलाज नहीं किया जाता है और उनकी मौत की सूचना भी नहीं दी जाती है।सूत्रों के अनुसार, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया की अध्यक्षता में देशभर में डेंगू की स्थिति पर राजधानी में चल रही समीक्षा बैठक में स्कूलों में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा और दिल्ली में वेक्टर जनित बीमारी के लिए गति परीक्षण भी किया जाएगा।

टिप्पणियाँ

Popular Post