सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

विपक्ष के हंगामे के बीच कृषि कानून वापसी बिल लोकसभा में पास, राकेश टिकट बोले- आंदोलन जारी रहेगा

  विपक्ष के हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल पास हो गया। हालांकि कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सदन में विधेयक पर चर्चा की मांग की। इससे पहले विपक्षी सांसदों के नारेबाजी के बीच लोकसभा में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कृषि क़ानून निरसन विधेयक 2021 पेश किया। राज्यसभा में भी आज ही यह बिल पेश किया जाएगा। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पहले ही तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान कर दिया था। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में इस बात की घोषणा की थी। उसके बाद इसे कैबिनेट की बैठक में भी मंजूरी मिल गई थी।   टिकैत का बयान वहीं, लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल के पास हो जाने के बाद राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक एमएसपी को लेकर हमारी मांगे पूरी नहीं होती तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि जिन 700 किसानों की मृत्यु हुई उनको ही इस बिल के वापस होने का श्रेय जाता है। MSP भी एक बीमारी है। सरकार व्यापारियों को फसलों की लूट की छूट देना चाहती है। आंदोलन जारी रहेगा। टिकैत ने कहा कि तीन मामलों का समाधान हो गया है अभी 1 मामला बाकी है। 1

आगरा: युवती की मौत के बाद मचा बवाल,दुकानों में तोड़फोड़, पथराव,फायरिंग

 


 आगरा /  थाना शाहगंज क्षेत्र के चिल्ली पाड़ा में शुक्रवार शाम को 25 वर्षीय वर्षा की संदिग्ध हालात में मौत के बाद बवाल हो गया। वर्षा ने कार मैकेनिक फईम से एक साल पहले प्रेम विवाह किया था। उसकी मौत की जानकारी पर भाई दुष्यंत और भाजयुमो पदाधिकारी पहुंच गए। पदाधिकारियों के नारेबाजी करने से माहौल गर्मा गया। मोहल्ले के लोगों के आमने-सामने आने पर पथराव और फायरिंग से दहशत फैल गई। बाजार में दुकानों में तोड़फोड़ भी की गई।

 सूचना पर कई थानों की फोर्स पहुंच गई।शुक्रवार शाम को साढ़े छह बजे वर्षा की मौत की जानकारी पुलिस को मिली थी। इस पर सीओ लोहामंडी सौरभ सिंह थाना शाहगंज पुलिस के साथ पहुंच गए। फईम के घरवालों का कहना था कि वर्षा ने फांसी लगाई है। वो उसे अस्पताल लेकर गए थे, जहां उसे मृत घोषित किया गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम गृह भेजने की तैयारी कर ली। तभी वर्षा का भाई दुष्यंत आ गया। बाद में भारतीय जनता युवा मोर्चा के क्षेत्रीय मंत्री गौरव राजावत और महानगर अध्यक्ष शैलू पंडित सहित अन्य कार्यकर्ता और पदाधिकारी पहुंच गए। वर्षा की हत्या का आरोप लगाया गया।आरोप है कि पदाधिकारियों ने नारेबाजी कर दी। इससे माहौल गर्मा गया।

 मोहल्ले के कुछ युवकों ने नारेबाजी का विरोध कर दिया। इसके बाद पथराव और फायरिंग होने लगी। इससे अफरातफरी मच गई। मोहल्ले में खड़े लोगों ने घरों में छिपकर जान बचाई। आरोप है कि चिल्ली पाड़ा से बाहर आकर कुछ लोगों ने शाहगंज बाजार में दुकानों को निशाना बनाया। सामान बाहर फेंक दिया। तोड़फोड़ भी की। इससे बाजार में धड़ाधड़ शटर गिरने लगे।सूचना पर कई थानों की फोर्स बुलाई गई। आईजी नचिकेता झा और एसएसपी सुधीर कुमार सिंह भी पहुंचे। घटनास्थल का निरीक्षण किया। इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस और पीएसी को तैनात किया गया है।

मृतका के परिजन थाना शाहगंज पहुंचे। इसकी जानकारी पर भाजपा विधायक योगेंद्र उपाध्याय और राम प्रताप सिंह चौहान के साथ बड़ी संख्या में पदाधिकारी और कार्यकर्ता आ गए। थाना का घेराव किया गया। एक घंटे तक नारेबाजी की गई। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि युवती की मौत की जानकारी पर पुलिस पहुंची थी। युवक के परिजनों ने उसके फांसी लगाकर आत्महत्या की बात बताई। सीओ और निरीक्षक मौके पर मौजूद थे। तभी कुछ लोगों ने आकर हंगामा किया। 

इस पर दूसरे पक्ष के लोग जुट गए। तत्काल लोगों को हटाया गया। एसपी सिटी सहित फोर्स बुलाई गई। इलाके में शांति है। मृतका के परिजन और बवाल के मामले में मुकदमे दर्ज किए जाएंगे। जो भी दोषी होगा कार्रवाई होगी। फायरिंग नहीं की गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।



टिप्पणियाँ

Popular Post