सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

त्रिपुरा हिंसा : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने के दिए निर्देश

    नई दिल्‍ली /   सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्य पुलिस की कथित मिली-भगत और निष्क्रियता के आरोपों की स्वतंत्र जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सोमवार को केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति डीवाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने सरकारों को दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया है।  अधिवक्ता ई. हाशमी की ओर से दाखिल याचिका पर अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने पैरवी की। उन्‍होंने सर्वोच्‍च अदालत से कहा कि वे हालिया साम्प्रदायिक दंगों की स्वतंत्र जांच चाहते हैं। इस मामले में अब दो हफ्ते बाद सुनवाई होगी। भूषण ने कहा कि सर्वोच्‍च अदालत के समक्ष त्रिपुरा के कई मामले लंबित हैं। पत्रकारों पर यूएपीए के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं कुछ वकीलों को नोटिस भेजा गया है। पुलिस ने हिंसा के मामले में कोई एफआइआर दर्ज नहीं की है। ऐसे में अदालत की निगरानी में इसकी जांच एक स्वतंत्र समिति से कराई जानी चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की प्रति केंद्रीय एजेंसी और

लखनऊ : भाजपा नेता ने खुद को गोली मार करी आत्महत्या, मौके से सुसाईड नोट बरामद

 

 


 लखनऊ /  भाजपा नेता अभिषेक शुक्ला ने आज सुबह  सुशांत गोल्फ सिटी इलाके में स्थित नंदिनी अपार्टमेंट में लाइसेंसी पिस्टल को गले पर सटाकर खुद को गोली मार ली। उनका शव फ्लैट के अंदर कुर्सी पर पड़ा मिला। घटना की जानकारी पुलिस और फोरेंसिक टीम ने मौके का निरीक्षण किया। पुलिस को कमरे से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें पत्नी से विवाद की बात सामने आयी है। अभिषेक मूल रूप से गोरखपुर की सिंघड़िया कालोनी के रहने वाले थे। अभिषेक एक मल्‍टीनेशनल कंपनी में अधिकारी के पद पर भी कार्यरत था।  इंस्पेक्टर सुशांत गोल्फ सिटी विजयेंद्र सिंह के मुताबिक अभिषेक शुक्ला भाजपा नेता थे। वह यहां नंदिनी आपर्टमेंट में पांचवे तल पर रहते थे। आज सुबह फ्लैट के एक कमरे में उनके दोस्त पवन पांडेय निवासी सिंघड़िया सोए थे। इस बीच एकाएक गोली चलने की आवाज हुई तो वह भागकर ड्राइंग रूम में पहुंचे। वहां कुर्सी पर अभिषेक का खून से लथपथ शव पड़ा देख उनकी चीख निकल पड़ी। उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम और अभिषेक के घर वालों को मामले की जानकारी दी। सूचना पर फोरेंसिक टीम और पुलिस पहुंची। शव कुर्सी के सहारे लटका था। गले में गोली लगी थी। कुर्सी के नीचे पिस्टल और मोबाइल पड़ा था। फोरेंसिक टीम ने मौके से साक्ष्य जुटाए। इस बीच पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। इंस्पेक्टर ने बताया कि कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। जिसमें पत्नी कुमुद से विवाद की बात लिखी है। इंस्पेक्टर ने बताया कि कुमुद यहां ओमेक्स सिटी में रहती हैं। दोनों के बीच विवाद चल रहा था। सुसाइड नोट में अभिषेक ने लिखा की पत्नी से विवाद के कारण वह परेशान थे। इस कारण आत्महत्या कर रहे हैं। सुसाइड नोट, मोबाइल फोन और मौके से मिले साक्ष्यों को जांच के लिए जब्त कर लिया गया है। इस संबंध में अभिषेक की पत्नी से भी बात की जाएगी। उन्हें घटना की जानकारी दे दी गई है। घटना से जुड़े हर पहलू की गनहता से पड़ताल की जा रही है। जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

टिप्पणियाँ

Popular Post