लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में हरीश रावत समेत 40 कार्यकर्त्ताओं ने दी गिरफ्तारी

 


  देहरादून /  लखीमपुर खीरी में किसानों के ऊपर गाड़ी चलाने को लेकर उत्तराखंड में भी आक्रोश है। नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा, किसानों के ऊपर जीप चढ़ाकर कुचलने की घटना बेहद दुर्भाग्य पूर्ण है। इसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के समेत 40 कांग्रेस कार्यकत्ताओं ने अपनी गिरफ्तारी दी है।

नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा, केंद्र की भाजपा सरकार बदले की भावना से कार्य कर रही है। किसानों पर काला कानून थोपने की कोशिश हो रही है, जिसके लिए किसान लंबे समय से आंदोलनरत है । कल लखीमपुर खीरी में हुई घटना शर्मनाक और निंदनीय है। उन्होंने कहा, कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है और उनके ऊपर जुर्म नहीं होने देगी। उन्होंने ये कांग्रेस इस तरह की घटना की निंदा करती है और किसानों का दमन नही होने देगी।

हरिद्वार में कांग्रेस विधायक और कार्यकर्त्ताओं का प्रदर्शन

लखीमपुर खीरी में हुई घटना के विरोध में कांग्रेस विधायक काजी निजामुद्दीन, फुरकान अहमद और ममता राकेश के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्त्ता और समर्थक रोशनाबाद पहुंचे। काली पट्टी बांधकर कार्यकर्त्ता एसएसपी कार्यालय के बाहर धरना देकर बैठ गए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ योगेंद्र सिंह रावत कांग्रेसी विधायक और कार्यकर्त्ताओं से बात कर रहे हैं। वहीं, शहर कांग्रेस कमेटी की तरफ से देवपुरा चौक के पास उत्तर प्रदेश सरकार का पुतला फूंक कर प्रदर्शन किया गया है।

डोबरा-चांठी पुल के बाहर कांग्रेस का प्रदर्शन

टिहरी में डोबरा-चांठी पुल के समीप झील थाने के बाहर कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने केंद्र और राज्य सरकार का पुतला फूंका। लखीमपुर खीरी में हुई घटना के विरोध में उन्होंने धरना भी दिया। किशोर उपाध्याय ने कहा कि जब प्रियंका गांधी किसानों के दुख में शरीक होने लखीमपुर खीरी जा रही थी तो उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया गाया।