सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

लगा है आना जाना..... अब टिहरी से भाजपा विधायक धन सिंह नेगी को रास आया हाथ

देहरादून: इस बार का विधानसभा चुनाव लगता है कांग्रेस और भाजपा दोनो के लिए डू एण्ड डाई बाला बन गया है। कई दिनों से लगातार कांग्रेस से भाजपा और भजपा से कांग्रेस मे आने का दौर जारी है। खैर दल-बदल की राजनीति तो आजकल सियासत की पाठशाला का ट्रेण्ड बन गया है।  लेकिन एक बात तो गौर करने वाली है कि मौजूदा सरकार के मंत्री या विधायक पार्टी छोड़ते हैं तो जाहिर सी बात है कि एक्टिंग सरकार की वापसी दोबारा असंभव बन जाती है। आज ही कांग्रेस के दिग्गज किशोर उपाध्याय जहां भाजपा कुनबे में शामिल हो गये वहीं बड़ी खबर आ रही है कि अब टिहरी विद्यायक धन सिंह नेगी कांग्रेस में शामिल हो गये। उम्मीद की जा रही है कि वे टिहरी से कांग्रेस के प्रत्याशी हो सकते हैं। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 जैसे-जैसे करीब आ रहे हैं वैसे वैसे सियासी पारा उतार-चढ़ाव पर है। वैसे भी  उत्तराखंड का मौसम और सियासत का कुछ नहीं पता चलता कब क्या हो जाये कोई नहीं जानता। 

अमेरिका रक्षा मुख्यालय पेंटागन के बाहर हमले में अधिकारी की मौत, लॉकडाउन लगाया

 

 



वाशिंगटन /  अमेरिका के रक्षा मुख्यालय पेंटागन की इमारत के बाहर एक पुलिस अधिकारी की चाकू घोंपकर हत्या किए जाने के बाद गोलीबारी हुई और इसके बाद लॉकडाउन लगा दिया गया। संदिग्ध हमलावर को घटनास्थल पर ही मार गिराया गया। ‘पेंटागन फोर्स प्रोटेक्शन एजेंसी’ के प्रमुख वुडरॉ कुसे ने बताया कि पेंटागन की समीप स्थित एक बस प्लेटफार्म में मंगलवार को सुबह साढ़े दस बजे के आसपास किसी ने अधिकारी पर हमला कर दिया। इसके बाद हुई गोलीबारी में ‘‘कई लोग हताहत’’ हुए। यह एजेंसी पेंटागन में सुरक्षा के लिए जिम्मेदार है।अधिकारियों ने बताया कि उनका मानना है कि घटना में वहां से गुजर रहे दो लोग भी घायल हो गए। कई कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने संदिग्ध की पहचान जॉर्जिया के ऑस्टिन विलियम लान्ज (27) के रूप में की है। लान्ज ने अधिकारी पर घात लगाकर हमला किया और गर्दन में चाकू घोंपा। इसके बाद अधिकारियों ने लान्ज को गोली मार दी। जांचकर्ता हमले के पीछे के मकसद का पता लगा रहे हैं। साथ ही यह भी पता लगा रहे हैं कि क्या लान्ज मानसिक रूप से बीमार था। लान्ज को अक्टूबर 2012 में अमेरिकी मरीन कोर में शामिल किया गया लेकिन एक महीने से कम समय बाद ही ‘‘प्रशासनिक रूप से अलग’’ कर दिया और उसे कभी मरीन का शीर्षक नहीं मिला। कुसे और अन्य अधिकारियों ने आतंकवाद की संभावना को खारिज नहीं किया।लेकिन कुसे ने कहा कि पेंटागन परिसर सुरक्षित है और ‘‘अभी हम किसी अन्य संदिग्ध की तलाश नहीं कर रहे हैं।’’ उन्होंने बताया कि एफबीआई जांच की अगुवाई कर रही है। यह घटना मंगलवार को एक मेट्रो बस प्लेटफार्म पर हुई जो पेंटागन के ट्रांजिट सेंटर का हिस्सा है। यह स्टेशन पेंटागन से कुछ ही दूरी पर है। एसोसिएटेड प्रेस के एक पत्रकार ने इमारत के आसपास गोली चलने की कई आवाज सुनी। पेंटागन ने एलान किया कि इमारत में लॉकडाउन लगा दिया गया है। गोलीबारी के वक्त अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन और जनरल मार्क मिले राष्ट्रपति जो बाइडन से मुलाकात करने के लिए व्हाइट हाउस में थे। पेंटागन के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि ऑस्टिन इमारत में लौटे और अधिकारियों से बात करने के लिए पेंटागन पुलिस अभियान केंद्र गए।


टिप्पणियाँ

Popular Post