सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

सरकार से बातचीत के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने बनाई 5 लोगों की कमेटी, टिकैत बोले- हम कहीं नहीं जा रहे

  कृषि कानूनों के निरस्त होने के बाद आज संयुक्त किसान मोर्चा के अहम बैठक हुई। इस बैठक में आंदोलन संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। इसके साथ ही 5 लोगों की कमेटी बनाई गई है जो सरकार से एमएसपी और किसानों से केस वापसी जैसे मुद्दों पर बातचीत करेगी। अब संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक 7 दिसंबर को होगी। बैठक के बाद राकेश टिकैत ने बताया कि 5 लोगों की कमेटी बनाई है। यह कमेटी सरकार से सभी मामलों पर बातचीत करेगी। अगली मीटिंग संयुक्त किसान मोर्चा की यहीं पर 7 तारीख को 11-12 बजे होगी। इस 5 लोगों की कमेटी में युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का, बलबीर राजेवाल, अशोक धवाले और गुरनाम सिंह चढुनी के नाम पर सहमति बनी है। बताया जा रहा है कि यह संयुक्त किसान मोर्चा की यह हेड कमेटी होगी जो किसानों से जुड़े मुद्दे पर महत्वपूर्ण फैसले लेगी। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि अब तक सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर बातचीत के लिए किसानों को नहीं बुलाया गया है। लेकिन जब भी सरकार की ओर से किसानों को बातचीत के लिए बुलाया जाएगा, यह 5 लोग ही जाएंगे। राकेश टिकैत की ओर से फिर दोहराया गया कि आंदोलन फिलहाल खत्म नहीं होगा। उन

चेयरमैन आयशा विकार ने सैदपुर सी.एच.सी को लिया गोद



 

  विक़ार अहमदखान
  "चेयरमैन प्रतिनिधि"

                                                  
बदांयू/ सैदपुर/  इंसान की सबसे ज्यादा अहम जरूरतों में स्वास्थ सेवायें हैं जिसको लेकर अक्सर स्वास्थ विभाग लोगों के निशाने पर रहता हैं,कभी डाक्टरों की मनमानी को लेकर तो कभी पर्याप्त दवा न मिलने पर हो कुछ भी निशाना स्वास्थ विभाग ही रहता है। कोरोना काल ने और भी स्वास्थ विभाग की बखिया उधेड़ दी ऐसे में अस्पतालों,प्रथमिक स्वास्थ केन्द्रों और सामुदायिक स्वास्थ केन्द्रों पर सीमित संसाधनों के चलते सारा दबाव वहां के सी.एम.ओ या मेडिकल आफिसर इंचार्ज के साथ स्टाफ पर पड़ता है, ऐसे में एक आदर्श पहल के तहत अपने-अपने क्षेत्र की स्वास्थ सेवाओं को बेहतर और हाईटेक करने के मकसद से प्रथमिक स्वास्थ केन्द्रों को सभ्रांत और संपन्न लोगों के द्वारा गोद लेने की पहल के लिए सरकार द्वारा आहवान भी किया गया है और इसके सकारात्मक परिणाम भी आने लगे हैं,जिसमें जिले की नगर क्षेत्र समीति के अध्यक्षों द्वारा स्वेच्छाा से इस पुनीत कार्य के लिए आगे आना शुरू कर दिया है। आपको बता दें कि इस पहल के तहत नगर क्षेत्र समीति सैदपुर की चेयरमैन आयशा विकार ने भी जिला अधिकारी बदांयू को पत्र लिखकर सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र को गोद लेने की सूचना दी है।
ये नगरवासियों के लिए बहुत हर्ष का विषय है उनके जनप्रतिनिधि स्वास्थ सेवाओं को लेकर कितने संवेदनशील हैं। वहीं प्राथामिक स्वास्थ केन्द्र पर तैनात प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डाक्टर फिरासत हुसैन अंसारी की कार्यशैली भी काबिले तारीफ है जो बेहद संजीदा रहकर अपने पेशे और क्षेत्र की जनता के हक में ईमानदारी से कार्य कर रहे हैं। बहरहाल नगर क्षेत्र समीति सैदपुर की चेयरमैन का स्वास्थ के प्रति संवेदनशील होकर उठाया गया कदम सराहनीय है,मैं उनके इस कदम का इस्तकबाल करता हूं।


 Source:Zeeshan Siddiqi Saidpur

टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव