सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

सरकार से बातचीत के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने बनाई 5 लोगों की कमेटी, टिकैत बोले- हम कहीं नहीं जा रहे

  कृषि कानूनों के निरस्त होने के बाद आज संयुक्त किसान मोर्चा के अहम बैठक हुई। इस बैठक में आंदोलन संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। इसके साथ ही 5 लोगों की कमेटी बनाई गई है जो सरकार से एमएसपी और किसानों से केस वापसी जैसे मुद्दों पर बातचीत करेगी। अब संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक 7 दिसंबर को होगी। बैठक के बाद राकेश टिकैत ने बताया कि 5 लोगों की कमेटी बनाई है। यह कमेटी सरकार से सभी मामलों पर बातचीत करेगी। अगली मीटिंग संयुक्त किसान मोर्चा की यहीं पर 7 तारीख को 11-12 बजे होगी। इस 5 लोगों की कमेटी में युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का, बलबीर राजेवाल, अशोक धवाले और गुरनाम सिंह चढुनी के नाम पर सहमति बनी है। बताया जा रहा है कि यह संयुक्त किसान मोर्चा की यह हेड कमेटी होगी जो किसानों से जुड़े मुद्दे पर महत्वपूर्ण फैसले लेगी। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि अब तक सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर बातचीत के लिए किसानों को नहीं बुलाया गया है। लेकिन जब भी सरकार की ओर से किसानों को बातचीत के लिए बुलाया जाएगा, यह 5 लोग ही जाएंगे। राकेश टिकैत की ओर से फिर दोहराया गया कि आंदोलन फिलहाल खत्म नहीं होगा। उन

हरिद्वार : दिल्ली से लाई गईं 500 से ज्यादा कोरोना मृतकों की अस्थियां, हरकी पैड़ी पर हुआ विसर्जन

 

 

 हरिद्वार में शुक्रवार को दिल्ली के पांच सौ से ज्यादा कोरोना मृतकों की अस्थियां विसर्जन के लिए पहुंचीं। इनका विसर्जन हरकी पैड़ी पर विधि विधान से किया गया। यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी के आह्वान पर दिल्ली से करोना मृतकों की अस्थियां लाई गईं। जिनकी संख्या पांच सौ से ज्यादा है। यूथ कांग्रेस के पदाधिकारियों ने विधि विधान से गंगा में अस्थियां विसर्जित कीं। यूथ कांग्रेस के प्रदेश  महासचिव गौरव कौशिक, दिव्यांश गिरधर, यूथ कांग्रेस के ज्वाइंट सेक्रेटरी संजीव, यूथ कांग्रेस के प्रदेश सचिव बिहार नंदन पासवान और हरिद्वार के यूथ कांग्रेस अध्यक्ष रवि बहादुर के नेतृत्व में अस्थियां विसर्जित की गईं। इन दिनों हरकी पैड़ी एवं आसपास के घाटों पर अस्थि विसर्जन करने वालों की भीड़ उमड़ रही है। उत्तराखंड ही नहीं कई राज्यों से लोग अपनों की अस्थियां लेकर पहुंच रहे हैं। अस्थि विसर्जन पर रोक नहीं है, लेकिन कोविड प्रोटोकाल का पालन करना सभी के लिए अनिवार्य है।शुक्रवार को हरकी पैड़ी क्षेत्र में कर्मकांड करने वालों की काफी भीड़ रही। लोगों ने कर्मकांड कर अपनों की अस्थियां प्रवाह कर गंगा में डुबकी लगाई। इस दौरान शारीरिक दूरी का पालन किया गया।प्रदेश में कोरोना संक्रमित मामले और मरीजों की मौतें लगातार घट रही है। बीते 24 घंटे में 15 मरीजों की मौत और 388 नए संक्रमित मिले हैं। जबकि 3242 मरीज स्वस्थ हुए हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 335866 हो गई है। देहरादून जिले में 94 कोरोना मरीज मिले है। नैनीताल में 60, हरिद्वार में 56, ऊधमसिंह नगर में 30, चमोली में 28, अल्मोड़ा में 24, रुद्रप्रयाग में 22, बागेश्वर में 15, चंपावत, पौड़ी, पिथौरागढ़ में 14-14, उत्तरकाशी में 10, टिहरी जिले में सात संक्रमित मिले हैं।प्रदेश में 24 घंटे में 15 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। वहीं, देहरादून, हरिद्वार व टिहरी जिले में 14 कोरोना मरीजों की मौत बैकलॉग की है। प्रदेश में मरीजों की मौत का आंकड़ा 6878 हो गया है। संक्रमितों की तुलना में ज्यादा मरीज स्वस्थ हो रहे हैं। अब तक 316621 मरीज संक्रमण को मात दे चुके हैं। प्रदेेश की रिकवरी दर 94.27 प्रतिशत और संक्रमण दर 6.66 प्रतिशत दर्ज की गई।

Sources:AmarUjala


टिप्पणियाँ

Popular Post

चित्र

बदायूं: बिसौली आरक्षित सीट को लेकर राजनीतिक दलों में गहन मंथन, भाजपा से सीट छीनने की फिराक में सपा आशुतोष मौर्य पर फिर खेल सकती है दांव