धार्मिक ग्रंथ बेअदबी मामला- सिद्धू ने ट्विटर पर पुलिस कार्रवाई के ‘वीडियो क्लिप’ किये पोस्ट

 

 

चंडीगढ़ /  कांग्रेस विधायक नवजोत सिंह सिद्धू ने रविवार को अपने टि्वटर अकाउंट पर पंजाब के फरीदकोट में 2015 में हुई एक घटना की कथित वीडियो पोस्ट की जिसमें धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस बल प्रयोग करती दिखाई दे रही है। सिद्धू ने यह वीडियो शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल के उस चुनौती के जवाब में पोस्ट किया जिसमें बादल ने सत्ताधारी कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) से इस मामले में सुबूत मांगा था।अमृतसर से विधायक ने गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के मामले की जांच के लिए गठित की गयी एक सदस्यीय आयोग की रिपोर्ट से संबंधित कुछ दस्तावेज भी टि्वटर पर साझा किए। इस बीच, आप पार्टी के पंजाब इकाई के अध्यक्ष भगवंत मान, पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्रियों बलबीर सिंह सिद्धू और साधू सिंह धर्मसोत ने इस मामले को लेकर शिअद प्रमुख पर निशाना साधते हुए कहा कि जब यह घटनाएं हुईं उस समय सुखबीर बादल ही राज्य के गृह मंत्री थे।गौरतलब है कि 2015 में जब घटनाएं हुई थीं उस समय पंजाब में भारतीय जनता पार्टी और शिअद की गठबंधन सरकार थी और प्रकाश सिंह बादल राज्य के मुख्यमंत्री थे।

 

This CCTV Footage was hidden from Justice (Retd.) Zora Singh Inquiry Commission during Badal Regime. Later, dug up by Justice Ranjit Singh. I brought this footage to Public Domain, which shows role of police, acting on behest of the Badals You are guilty but being protected! 2/2
 
https://twitter.com/i/status/1393823402880761859

 Sources:Agency News