सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

मार्च से लगेगी 12 से 14 साल तक के बच्चों को वैक्सीन

जैसा की मालूम है कि देश में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान बहुत तेजी से चल रहा है। इसी कड़ी में 3 जनवरी से सरकार ने 15 से 18 साल के बच्चों के लिए टीकाकरण शुरू किया था। इसके अलावा 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए बूस्टर डोज की भी शुरुआत हो चुकी है।]  इन सबके बीच बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर अच्छा समाचार आ रहा है। आपको बता दें देश में मार्च महीने से 12 से 14 साल तक के बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन लगना शुरू हो जाएगा। इस बात की जानकारी टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के प्रमुख एनके अरोड़ा ने दी। आपको बता दें कि देश में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड.19 रोधी टीकों की 157.20 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मांडविया ने ट्वीट कर बताया कि 3 जनवरी से अब तक 15.18 आयु वर्ग के 3.5 करोड़ से अधिक बच्चों को कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज़ लगा दी गई है।  वहीं देश में टीकाकरण अभियान का एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इसने वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ाई को बेहद मजबूत बनाया और इसके चलते ही लो

भारत-नेपाल सीमा पर नेपाली पुलिस के साथ झड़प में आठ भारतीय कारोबारी घायल

काठमांडू / नेपाल-भारत सीमा पर महोत्तारी जिले में नेपाल पुलिस के साथ झड़प में आठ भारतीय कारोबारी घायल हो गए हैं। सोमवार को मीडिया में आई खबरों में यह जानकारी दी गई। सरकारी समाचार पत्र ‘राइजिंग नेपाल’ की एक रिपोर्ट के अनुसार, यह घटना रविवार रात को उस समय हुई, जब भारतीय कारोबारियों ने मतिहानी नगर निगम में कोरोना वायरस संक्रमण की जांच के एक बनाई गई एक अस्थाई चौकी और हेल्प डेस्क को ध्वस्त कर दिया। वेबसाइट ‘माई रिपब्लिक’ के अनुसार सशस्त्र पुलिस बल का एक जवान और आठ भारतीय कारोबारी झड़प में घायल हो गए। मतिहानी सीमा चौकी के पुलिस निरीक्षक बलराम गौतम ने बताया कि रविवार रात आठ बजे 50-60 भारतीय नागरिकों ने सीमा पर तैनात जवानों पर पथराव किया। उन्होंने बताया कि भारतीय नागरिकों ने शराब पी हुई थी।महोत्तारी जिले में मतिहानी नगरनिगम की करीब डेढ़ किलोमीटर लंबी सीमा बिहार में मधवापुर बाजार से लगती है। खबर के मुताबिक इस हमले में ड्यूटी पर तैनात जवान विवेक धाकल के सिर पर गंभीर चोर आई है। वहीं एक भारतीय कारोबारी ने कहा कि निरीक्षक गौतम ने जवानों को आलू, प्याज और चावल आयात कर रहे व्यापारियों को पीटने के लिए कहा। स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस ने भारतीय कारोबारियों के खिलाफ बेवजह बल का इस्तेमाल किया। Sources:PrabhaShakshi Samachar

टिप्पणियाँ

Popular Post