हरिद्वार कुंभ से दिल्ली लौटने वाले श्रद्धालुओं को रहना होगा 14 दिन तक क्वारंटाइन

  


 नयी दिल्ली /  हरिद्वार के कुंभ मेले में जाने वाले या जाने की योजना बना रहे दिल्ली के निवासियों को वहां से लौटने पर 14 दिन तक घर पर अनिवार्य पृथक-वास में रहना होगा। उन्हें स्वयं से संबंधित जानकारी आधिकारिक वेबसाइट पर भी डालनी होगी। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने एक आदेश में यह कहा। कोरोना वायरस संक्रमण के बेतहाशा बढ़ते मामलों के बीच हरिद्वार में चल रहे कुंभ मेले को लेकर कई विवाद खड़े हो गए हैं और आशंका जताई जा रही है कि यह संक्रमण का केंद्र बन सकता है।अनिवार्य पृथक-वास संबंधी आदेश शनिवार को जारी किया गया। इसमें कहा गया कि चार अप्रैल के बाद से कुंभ मेले में गए लोग या वे लोग जो 30 अप्रैल तक चलने वाले मेले में जाने की योजना बना रहे हैं, उन्हें अपनी व्यक्तिगत जानकारी, पहचान पत्र, कुंभ मेले में जाने की तारीख और दिल्ली वापसी की तारीख दिल्ली सरकार की वेबसाइट पर डालनी होगी। डीडीएमए की कार्यकारी समिति के अध्यक्ष एवं मुख्य सचिव विजय देव की ओर से जारी आदेश में कहा गया, ‘‘दिल्ली के वे सभी निवासी जो हरिद्वार में कुंभ 2021 में जा चुके हैं या जाने का विचार कर रहे हैं उन्हें दिल्ली लौटने पर घर पर 14 दिन तक अनिवार्य पृथक-वास में रहना होगा।’’आदेश में कहा गया कि कुंभ से लौटने वाला व्यक्ति यदि दिल्ली सरकार के पोर्टल पर अपनी जानकारी नहीं देगा तो संबंधित जिला मेजिस्ट्रेट उक्त व्यक्ति को संस्थागत पृथक-वास केंद्र में भेज देंगे। इसमें कहा गया कि डीडीएमए के आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन कानून तथा अन्य कानूनी प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जाएगी। कुंभ मेले में 10 से 14 अप्रैल के बीच कुल 1,701 लोग कोरोना वायरस से पीड़ित पाए गए हैं।


Sources:Agency News