पूर्व सीएम हरीश रावत ने विधानसभा चुनाव पर क्या कहा


विधानसभा चुनाव में नेतृत्व के मुद्दे पर पूर्व सीएम हरीश रावत ने सोमवार को एक बार फिर अपना स्टैंड साफ किया। बकौल रावत, हल्द्वानी में पार्टी नेताओं ने मुझे लेकर जो भावनाएं जाहिर कीं, वो उनकी निजी भावनाएं थीं। चुनाव सामूहिक रूप से लड़े जाते हैं।


प्रदेश के संगठन के समानांतर सक्रियता पर रावत ने कहा कि अब कांग्रेस में पूर्व सीएम के रूप में मैं ही बचा हूं इसलिए हर जगह कांग्रेस का झंडा लिए घूमता रहता हूं।


मालूम हो कि दो रोज पहले रावत समर्थक सांसद प्रदीप टम्टा, विधायक हरीश धामी समेत कई नेताओं ने प्रेस कांफ्रेस कर कहा था कि अगला चुनाव रावत के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा।


रावत ही प्रदेश में कांग्रेस का सर्वमान्य व प्रभावी चेहरा हैं। इसके बाद पार्टी में गुटबाजी को हवा मिल गई। हालांकि टम्टा और धामी के बयानों से रावत खुद को अलग कर चुके हैं।


सोमवार को रावत ने कहा कि वर्तमान में कांग्रेस में पूर्व सीएम के रूप में केवल मैं ही बचा हूं। इसके चलते कांग्रेस सरकार की उपलब्धियों को प्रचारित-प्रसारित करने और भाजपा की असलियत को जनता के सामने लाने के प्रयास करता रहता हूं।


और, आगे भी इसी प्रकार कांग्रेस की नीति-रीति को जनता तक ले जाता रहूंगा। मेरे नेतृत्व में चुनाव लड़ने की बात भावनात्मक है। अपने साथियों का मैं आभार जताता हूं लेकिन चुनाव सामूहिक रूप से लड़े जाते हैं।


 


Sources:Agency News