बाइक रैली में शामिल भाजपा नेताओं पर भी होगी कार्रवाई



भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) की बाइक रैली में शिरकत करने वाले भाजपा नेता भी मुश्किल में पड़ सकते हैं। रैली में शारीरिक दूरी के नियम के उल्लंघन के आरोप में आयोजक एवं सह संयोजक प्रकोष्ठ भाजयुमो राहुल रावत के खिलाफ डालनवाला कोतवाली में मुकदमा दर्ज हो चुका है।




 


देहरादून /  भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) की बाइक रैली में शिरकत करने वाले भाजपा नेता भी मुश्किल में पड़ सकते हैं। रैली में शारीरिक दूरी के नियम के उल्लंघन के आरोप में रैली के आयोजक एवं सह संयोजक प्रकोष्ठ भाजयुमो राहुल रावत के खिलाफ डालनवाला कोतवाली में मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस अब रैली की वीडियोग्राफी की पड़ताल कर रही है। इसकी मदद से रैली में शारीरिक दूरी के नियम का उल्लंघन करने वाले भाजपा नेताओं की पहचान की जा रही है।


शनिवार को भाजयुमो के नवनियुक्त महानगर अध्यक्ष अंशुल चावला के स्वागत में संगठन ने बाइक रैली निकाली थी। पुलिस मुख्यालय के नजदीक स्थित लॉर्ड वेंकटेश्वर वेडिंग प्वाइंट से कनक चौक, घंटाघर, दर्शनलाल चौक होते हुए परेड ग्राउंड तक निकाली गई रैली में तकरीबन 300 मोटरसाइकिल शामिल थीं। लॉर्ड वेंकटेश्वर वेडिंग प्वाइंट के पास रैली के आयोजक राहुल रावत से जब सीओ डालनवाला विवेक कुमार ने अनुमति पत्र  मांगा तो वह नहीं दिखा सके। सीओ ने बताया कि रैली में शामिल अधिकतर कार्यकत्र्ताओं ने मास्क नहीं पहना हुआ था और शारीरिक दूरी के नियम का पालन भी नहीं किया जा रहा था। राहुल रावत के खिलाफ मुकदमा उप निरीक्षक दीपक रावत की तहरीर पर दर्ज किया गया है।



 

डीआइजी अरुण मोहन जोशी का कहना है कि भाजयुमो की ओर से निकाली गई रैली में मास्क नहीं पहनने और शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं करने का मामला सामने आया है। रैली की वीडियोग्राफी कराई गई है, जिसकी जांच की जा रही है। कोविड-19 की गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कोर्ट में आरोपपत्र दाखिल किया जाएगा।


 


Sources:Agency News