लखनऊ/ यूपी: समाजवादी पार्टी नेता आईपी सिंह का विवादित ट्वीट, दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को बताया नपुंसक


लखनऊ/ समाजवादी पार्टी नेता आईपी सिंह का विवादित ट्वीट, दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को बताया नपुंसक


सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता आईपी सिंह ने दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को लेकर विवादित ट्वीट किया है, समाजवादी पार्टी के नेता आईपी सिंह ने सुशांत सिंह पर विवादित बयान दिया है, उन्होंने ट्वीट कर कहा हैकि सुशांत नपुंसक था इसलिए उसने आत्महत्या की. हालांकि उनके इस ट्वीट का विरोध शुरू हो गया, देखते ही देखते समाजवादी पार्टी के नेता आईपी सिंह ट्रोल हो गए, लोगों ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर उन्हें खरी-खोटी सुनानी शुरू कर दी, ट्विटर पर हैश टैग आईपी सिंह नपुंसक है ट्रेंड करने लगा, कुछ देर बाद उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया.


समाजवादी पार्टी के नेता आईपी सिंह ने दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को लेकर विवादित ट्वीट किया है. इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना हो रही है. सपा प्रवक्ता आईपी सिंह ने गुरुवार रात 9 बजकर 57 मिनट पर एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में आईपी सिंह ने लिखा, नपुंसक था सुशांत सिंह राजपूत जिसने आत्महत्या की, कायरों को समाज कभी माफ नहीं करता. फिर क्या था, इसके बाद लोगों ने उन्हें ट्विटर पर ऐसा ट्रोल किया कि वो ट्रेंड में आ गए और कुछ ही देर बाद ट्विटर पर आईपी सिंह नपुंसक है ट्रेंड करने लगा. हालांकि कुछ देर बाद उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया. लोग इसके बाद लगातार समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से सवाल कर रहे हैं, पूछ रहे हैंकि क्या यह समाजवादी पार्टी का आधिकारिक बयान है, क्योंकि आईपी सिंह सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता है.


आईपी सिंह सपा से पहले उत्तर प्रदेश के भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेताओं में शामिल हुआ करते थे. वह पार्टी प्रवक्ता के साथ-साथ यूपी में बीजेपी सरकार के दौरान मंत्री भी रह चुके हैं. योगी सरकार के आने क बाद वह हाशिये पर चले गए. आईपी सिंह ने पिछले साल लोकसभा चुनाव के दौरान राजनाथ सिंह की जगह खुद के लिए लखनऊ से टिकट की मांग भी की थी और बकायदा तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को पत्र भी लिखा था. इसके कुछ समय बाद वो बीजेपी के खिलाफ मुखर हो गए हैं और अपनी ही पार्टी के नेताओं के खिलाफ बयानबाजी करने के बाद उन्हें बीजेपी ने 6 साल के लिए पार्टी से निकाल दिया.


लोकसभा चुनाव के दौरान आईपी सिंह ने सपा मुखिया अखिलेश यादव को प्रचार के लिए अपना घर, दफ्तर के तौर पर देने का ऑफर किया. कुछ समय बाद उन्होंने सपा ज्वॉइन कर ली और इसके बाद उन्हें समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया.


आईपी सिंह के विवादित ट्वीट पर सपा और अखिलेश यादव की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. एक ट्विटर यूजर ने लिखा, हैलो बिहार, ये आईपी सिंह के आपके गर्व सुशांत सिंह राजपूत को गाली दे रहे हैं. इनके मुखिया अखिलेश यादव आगामी विधान सभा चुनाव में लालू प्रसाद यादव की पार्टी का प्रचार करने आएंगे. उन्होंने करारा जवाब देना. वहीं एक अन्य शख्स ने ट्वीट करते हुए लिखा, इंसानियत को आज फिर गिरते हुए देख लिया. इससे बुरा औऱ कुछ नहीं हो सकता है, वो भी तब जब वह शख्स इस दुनिया में नहीं है.


Source :Agency news