नामांकन के दौरान हिंसक झडप मे 14 सपाईयो पर एफआईआर,मचा हडकंप


वाराणसी  / भूमि विकास बैंक में पुलिस ने एक प्रत्याशी की तहरीर पर 14 सपा नेताओं के खिलाफ 9 गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने अनलॉक नियमों को तोड़ने का भी एक मुकदमा लिखा है। एकतरफा दर्ज मुकदमों के बाद सपा नेता इसके विरोध में उतर आए हैं। उनका कहना है कि सत्तापक्ष के इशारे पर दर्ज हुये मुकदमे वापस न हुये तो सड़क पर उतरकर आंदोलन होगा 26 अगस्त को भूमि विकास बैंक के शाखा अध्यक्ष पद के नामांकन में सपा भाजपा नेताओं में हिंसक झड़प हुई थी। जिसमे मौके पर मौजूद पुलिस फोर्स मूकदर्शक बना खिड को बचा रहा था। 


पुलिस का यह कायराना अंदाज सोशल मीडिया पर भी जमकर वायरल हुआ था। देर रात एक भाजपा उम्मीदवार की तहरीर पर पुलिस ने 14 नामजद व कुछ अज्ञात सपा नेताओं के खिलाफ 9 धाराओं में एकपक्षीय मुकदमा दर्ज कर लिया। एसपी का कहना है कि एक मुकदमा विपक्षी उम्मीदवार की तहरीर पर लिखा गया है और एक मुकदमा पुलिस ने खुद सोशल डिस्टनसिंग व अनलॉक नियमों को तोड़ने का लिखा गया है। उन्होंने बताया कि जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। 


वहीं सपा ने दर्ज मुकदमे का विरोध शुरू कर दिया है। मुकदमों के विरोध में डीएम को ज्ञापन देने पहुंची सपा महिला मोर्चा की नेता अंगूरी दहाड़िया ने इसे सत्तापक्ष के दबाव में एकतरफा कार्यवाही बताया। उन्होंने कहा कि अगर निर्दोष सपा नेताओं पर दर्ज फर्जी मुकदमे वापस न हुये तो पूरी पार्टी बड़ा आंदोलन छेड़ेगी।


Source :Agency news