कुम्भ 2021 मेला का स्वच्छता पर होगा विशेष फोकस ,तो सौन्दर्यीकरण का आखिर क्या होगा


देहरादून /  प्रदेश के शहरी विकास, आवास, राजीव गाँधी शहरी आवास, जनगणना, पुनर्गठन एवं निर्वाचन मंत्री मदन कौशिक ने विधान सभा स्थित सभा कक्ष में कुम्भ मेला-2021 सौन्दर्यीकरण के सम्बन्ध में बैठक की।


बैठक में कहा गया कि कुम्भ मेला-2021 के लिए आवश्यक तैयारी समय से पूर्व कर ली जाय। बदली हुई परिस्थितियों में विभागों से संशोधित कार्य योजना प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया। कुम्भ मेला-2021 में स्वच्छता पर विशेष फोकस किया जायेगा। कुम्भ मेला सौन्दर्यीकरण का आधार स्वच्छता होगा। साॅलिड वेस्ट मैंनेजमेंट के तहत कूड़ा निस्तारण किया जायेगा। पार्किंग एवं स्नानघाटों को भीड़ के आवश्यकतानुसार बनाने का निर्देश दिया गया है। कुम्भ मेला के दौरान आश्रम, अखाड़ों एवं मन्दिर के आस-पास, शहर के भीतर सड़कों की मरम्मत एवं रखरखाव का एस्टीमेट तैयार करने का निर्देश दिया गया। कमेटी द्वारा लोगो चिन्ह, का परीक्षण कराकर, जारी करने के निर्देश अधिकारियों को दिये गये।  


शहर के सौन्दर्यीकरण के अन्तर्गत पेंटिंग, लाइटिंग, साफ-सफाई, घाटों पर साउण्ड व्यवस्था, हाईवे के किनारे पेंटिंग, बार को विकसित करने की कार्य योजना रखा गया है। घाटों की साफ-सफाई एवं मरम्मत कार्य के साथ चेन, रेलिंग एवं टाइल लगाने का भी कार्य किया जायेगा। जनसुविधाओं एवं कुम्भ मेला से सम्बन्धित अन्य कार्य के सम्बन्ध में जल्द अखाड़ों के साथ बैठक की जायेगी।


इस अवसर पर सचिव शहरी विकास शैलेश बगोली, आयुक्त गढ़वाल मण्डल रविनाथ रमन, मेलाधिकारी दीपक रावत, अपर सचिव विनोन सुमन, अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह एवं डाॅ0 ललित नारायण मिश्रा, नगर आयुक्त हरिद्वार शैलेन्द्र सिंह नेगी एवं ओ.एस.डी. कुम्भ मेला महेश शर्मा सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।


Source :Agency news w