एक्सक्लूसिव: जीरो टॉलरेंस के राज में आरटीआई का जवाब देने से कतरा रहे अधिकारी


रिपोर्ट- अनुज नेगी


पौड़ी। डबल इंजन की सरकार में भ्रष्टाचार को किस तरह से अंजाम दिया जाता है इसका उदाहरण पौड़ी जिले में देखने को मिला। जहां विभाग अपनी कमी को छिपाने के लिए सूचना अधिकार का जवाब देने से कतरा रहा है। सूचना अधिकार अधिनियम 2005 के अंतर्गत आम नागरिक सरकार और किसी भी विभाग से सूचना मांग सकता हैं। जनपद पौड़ी के जयहरीखाल ब्लॉक के उच्च अधिकारी आरटीआई का जवाब देना उचित नहीं समझते है। छह माह पूर्व में आरटीआई कार्यकर्ता इंद्रजीत असवाल ने खण्ड विकास अधिकारी जयहरीखाल से सूचना अधिकार अधिनियम 2005 के अंतर्गत सूचना मांगी थी।


Source :Agency news