सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

हरक की घर वापसी, बहू अनुकृति ने भी थामा कांग्रेस का हाथ

देहरादून: पांच दिनों तक मचे सियासी घमासान के बाद आखिरकार पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और उनकी बहू अनुकृति गुसाईं ने आज दिल्‍ली में कांग्रेस का दामन थाम लिया।  इस दौरान पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत समेत कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे। इस दौरान हरक सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश का विकास मेरा लक्ष्‍य है। उन्होंने कहा कि मैं बिना शर्त कांग्रेस परिवार में शामिल हुआ हूं।हरक ने कहा मैंने 20 साल तक कांग्रेस के लिए काम किया है। मैं सोनिया गांधी का एहसान किसी भी कीमत पर नहीं भूलूंगा । वहीं देर आयद दुरूस्त आये की कहावत चरितार्थ करते हुये कांग्रेस में पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत की वापसी पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत की आपत्ति के बाद पेच फंसा हुआ था । हालांकि सरकार तोडने में हरक की भूमिका जिसमे उन्होंने वर्ष 2016 में बगावत कर उनकी सरकार गिराई भी हरीश रावत बहुत नाराज थे जिसको लेकर हरीश रावत के तीखे तेवरों में अभी कमी नहीं आई है। वह हरक सिंह रावत को लोकतंत्र का गुनहगार बताते हुए पहले माफी मांगने पर जोर देते रहे। लेकिन हरीश रावत कह चुके थे कि हरक की

साजिश के तहत मंत्री के बेटे ने किसानों को कुचला : राहुल गांधी

 



 नयी दिल्ली /  संसद का शीतकालीन सत्र अब समापन की ओर बढ़ रहा है। इसी के साथ ही सियासत गर्माती जा रही है। आपको बता दें कि कांग्रेस समेत पूरा विपक्ष लखीमपुर खीरी मामले को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश कर रहा है। इसी बीच लखीमपुर खीरी मामले में गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी के इस्तीफ़े की मांग को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी समेत विपक्षी सदस्यों ने मंगलवार को महात्मा गांधी की प्रतिमा से लेकर विजय चौक तक मार्च निकाला। इस दौरान कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि एक बार फिर से पूरा विपक्ष एकजुट होकर लखीमपुर खीरी का मामला उठा रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में एक मंत्री हैं, उनके बेटे ने किसानों को कुचला है। रिपोर्ट सामने आई है कि यह साजिश है और प्रधानमंत्री मोदी उस मंत्री के बारे में कुछ नहीं करते हैं।

उन्होंने कहा कि न मीडिया अपना काम कर रही है और न ही सरकार। सच्चाई यह है कि हिन्दुस्तान के एक मंत्री के बेटे ने किसानों को जीप के नीचे कुचलने का काम किया है। प्रधानमंत्री कहते हैं कि मैं किसानों से माफी मांगता हूं। प्रधानमंत्री एक तरफ माफी मांगते हैं और दूसरी तरफ अपने मंत्रिमंडल में किसान के हत्यारे को रखते हैं और उसे हटाते नहीं हैं। कांग्रेस सांसद ने आगे कहा कि हम उन्हें ( गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा) नहीं छोड़ेंगे। आज नहीं तो कल जेल भेजा जाएगा।

टिप्पणियाँ

Popular Post